Covid-19 Update

59,032
मामले (हिमाचल)
57,473
मरीज ठीक हुए
984
मौत
116,748,718
मामले (भारत)
11,192,088
मामले (दुनिया)

वीरभद्र-आशा मंच से एक ही नाम लेना क्यों भूल गए,जाने पूरा माजरा

वीरभद्र-आशा मंच से एक ही नाम लेना क्यों भूल गए,जाने पूरा माजरा

- Advertisement -

धर्मशाला। राजनीति क्या इसी का नाम है,अगर कांग्रेस प्रत्याशी पवन काजल ( Congress candidate Pawan Kajal) के नामांकन के बाद दाड़ी के मेला ग्राउंड में हुई जनसभा की गहराई में जाएं तो कुछ बातें इसकी तरफ इशारा करती हैं। मेला ग्राउंड में सजे मंच पर बैठने की व्यवस्था का क्रम गौर से देखा जाए तो पूर्व परिवहन मंत्री जीएस बाली ( Former Transport Minister GS Bali) को कहां पर जगह दी गई है, उससे भी अंदाजा लगाया जा सकता है कि कांग्रेस ( congress) का प्रचार किस दिशा में चल रहा है। जबकि यही बाली, लोस चुनाव ( Lok Sabha Elections) में कांग्रेस की प्रचार कमेटी के अध्यक्ष बनाए हुए हैं।
आज मंच से जब बाली को बोलने का मौका दिया गया तो उन्होंने ये बात अपने आप ही स्पष्ट कर दी कि उन्हें नामांकन के लिए न्योता ही नहीं दिया गया था,जबकि उन्हें तो मेला ग्राउंड में ही बुलाया गया था। उसके बाद कई नेताओं के बोलने के बाद जब पंजाब कांग्रेस ( Punjab Congress) की प्रभारी आशा कुमारी व पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह का संबोधन शुरू हुआ तो वह दोनों बाली का नाम तक लेना भूल गए। जबकि मंच पर मौजूद सभी नेताओं के उन्होंने नाम लिए, बाद में आशा ने अपने संबोधन को बीच में रोककर बाली का नाम लिया। इसी तरह वीरभद्र सिंह को भी याद दिलाया गया तब जाकर उन्होंने भी बाली का नाम लिया। यानी आज बाली के कद की भी चर्चा होनी शुरू हो गई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है