Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

कटवाल मानहानि मामले में Virbhadra Singh को राहत

कटवाल मानहानि मामले में Virbhadra Singh को राहत

- Advertisement -

virbhadra singh defamation case : ऊना। एसएम कटवाल बनाम वीरभद्र सिंह मानहानि केस भी आज खत्म हो गया। ऊना के एसीजीएम होशियार सिंह ठाकुर की अदालत ने अनुपस्थित चल रहे कटवाल को आदेश दिए थे कि यदि मामले की इस सुनवाई में पेश न हुए, तो उनकी शिकायत को रद कर दिया जाएगा। एसएम कटवाल पेश नहीं हुए, उनके वकील केशव चंदेल ने हाजिर होकर कटवाल की तरफ शिकायत वापस लेने का आवेदन किया, जिसे अदालत ने मंजूर करते हुए मामले को खत्म कर दिया। एसएम कटवाल के केस को लेकर कोर्ट परिसर के बाहर लगातार सर्तकता विंग की टीम भी जुटी रही। कटवाल के न आने से इस टीम को भी निराशा ही हाथ लगी। कटवाल पिछले कुछ महीनों से पुलिस की पहुंच से दूर है।

  • कटवाल बनाम वीरभद्र सिंह मानहानि केस भी आज खत्म
  • अदालत ने आवेदन को मंजूर करते हुए खत्म किया मामला
  • ऊना की अदालतों में सीएम के खिलाफ चलाए गए थे 8 मामले
  • कटवाल के कोर्ट में पेश न होने के चलते सभी मामले हुए खारिज

हमीरपुर की अदालत ने एक मामले में कटवाल को सजा सुनाई और सुप्रीम कोर्ट में कटवाल की याचिका खारिज होने के बाद कोर्ट में सरेंडर करना है। लेकिन, कटवाल कोर्ट व पुलिस के समक्ष पेश नहीं हुए हैं और पुलिस उन्हें तलाश कर रही है। वीरभद्र पक्ष की ओर से अदालत में पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता वीरेंद्र धर्माणी ने बताया कि कटवाल द्वारा कोटला में रैली के दौरान 2004 में सीएम वीरभद्र सिंह के भाषण को लेकर मामला दायर किया गया था, जो अब समाप्त हो गया है। सीएम वीरभद्र सिंह ने 2004 उपचुनाव में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि धूमल सरकार ने नौकरियां बेचीं हैं। अधीनस्थ चयन बोर्ड के जरिए बाहर के लोगों को नौकरी दी गई है और इस मामले में कार्रवाई की जा रही है। इस बात को कटवाल ने अपने विरूद्व मानहानि मानते हुए सीएम पर 2005 में मुकदमा किया था। पहले यह मामला खारिज होने के बाद हाईकोर्ट पहुंचा और हाईकोर्ट से वापस ऊना कोर्ट में आया।  18 फरवरी को कोर्ट ने कहा था कि कटवाल कोर्ट में पेश हों और अपना बयान दें। नहीं तो केस खारिज कर दिया जाएगा।


ये भी पढ़ें : आय से अधिक संपत्ति मामलाः दिल्ली Highcourt में सुनवाई टली, 3 अप्रैल को होगी

वीरभद्र पक्ष की ओर से अदालत में पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता वीरेंद्र धर्माणी ने बताया कि एसएम कटवाल द्वारा करीब 8 मामले सीएम के खिलाफ ऊना की विभिन्न अदालतों में चलाए गए थे। वर्तमान में कटवाल को खुद सजा हो गई है और वे पुलिस की पहुंच से दूर हैं। अदालती मामलों में भी नहीं आ रहे हैं। धर्माणी ने बताया कि अब सभी मामले खत्म हो गए हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है