Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,417,390
मामले (भारत)
228,533,587
मामले (दुनिया)

Virbhadra बोले- नफरत और हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ सरकार करे कड़ी कार्रवाई

Virbhadra बोले- नफरत और हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ सरकार करे कड़ी कार्रवाई

- Advertisement -

शिमला। पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह ने कहा है कि विश्वव्यापी कोरोना महामारी से लड़ने के लिए हमें एक होना होगा। उन्होंने समाज में कुछ तत्वों द्वारा नफरत और हिंसा फैलाने पर अपनी चिंता व्यक्त करते हुए सरकार से ऐसे लोगों के विरुद्ध कड़ी कारवाई करने को कहा है। वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) ने कहा है कि देश के सामने आज एक बहुत बड़ी चुनौती आन पड़ी है। यह एक संग्राम से कम नहीं है, इसलिए अगर कोई आपसी मतभेद भी है तो उन्हें भूला कर सभी को एकजुट होकर इसका मुकाबला करना है। समाज में किसी भी प्रकार का कोई भी मतभेद या द्वेष देश, प्रदेश के लिए घातक सिद्ध हो सकता है। उन्होंने कहा है कि कोरोना (Corona) से हमारी सुरक्षा में जुटे सभी लोगों डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ या सुरक्षा में जुटे सभी पुलिस कर्मियों को हमें पूरा सहयोग देना चाहिए, तभी हम इस महामारी पर अपनी जीत हासिल कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: अंब में मौलवी के Corona Positive आए बेटे सहित पांच पर मामला दर्ज

 

वीरभद्र सिंह ने प्रदेश सरकार से कहा है कि लॉकडाउन (Lockdown) की बजह से प्रदेश के उन लोगों, श्रमिकों और बच्चों को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाएं जो पिछले 21 दिनों के लॉकडाउन में प्रदेश के विभिन्न स्थानों में फंसे हुए हैं। उन्होंने कहा है कि इन लोगों की स्वास्थ्य जांच के बाद इन्हें इनके घरों में पहुंचाने की पूरी व्यवस्था सरकार को निशुल्क करनी चाहिए। वीरभद्र सिंह ने कहा है कि लॉकडाउन बढ़ने की स्थिति में प्रदेश सरकार को किसानों और बागवानों के लिए अपने काम के लिए विशेष अनुमति देनी चाहिए। उन्होंने कहा है कि किसानों और बागवानों की पूरी आर्थिकी फसलों पर ही निर्भर है, इसलिए भविष्य की चुनौतियों को देखते हुए कुछ निर्णय प्रदेशहित में भी लेने से सरकार को कोई गुरेज नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: Himachal में 16 अप्रैल से कार्यालय आएंगे सरकारी विभागों के 30 फीसदी कर्मी

वीरभद्र सिंह ने कहा है कि देश के साथ-साथ प्रदेश की अर्थव्यवस्था पर कोरोना का विपरीत असर पड़ा है। इसलिए वह फिर से दोहराना चाहते हैं कि होटल व्यवसाय से जुड़े लोगों, ट्रांसपोर्टरों, कारोबारियों को जिन्होंने बैंकों से लोन इत्यादि ले रखा है, उन्हें इस अवधि का ब्याज माफ करना चाहिए। साथ ही कमर्शियल रेट पर बिजली, पानी और अन्य कोई भी टैक्स देय होता है, उसे प्रदेश सरकार को निरस्त कर देना चाहिए। उन्होंने इस संक्रमण से लोगों की सुरक्षा में जुटे सभी लोगों, डॉक्टरों, मेडिकल टीमों, आशा वर्कर, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मीडिया कर्मी और पुलिस स्टाफ की प्रशंसा करते हुए सरकार से इन सभी के लिए कोई भी विशेष आर्थिक पैकेज देने की मांग का भी पूरा समर्थन किया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है