Expand

अरे! वीरभद्र सिंह की जमीन ही पानी की प्यासी

अरे! वीरभद्र सिंह की जमीन ही पानी की प्यासी

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश के सरकारी विभागों का हाल-बेहाल है। सबसे बदतर स्थिति आईपीएच विभाग की है। विभाग के अफसर अपनी ही चाल से चलते हैं, मामला चाहे ख़ास हो या आम। ताज़ा वाक्या तो बड़ा ही हैरान करने वाला है, चूंकि मामला सीधे-सीधे प्रदेश के मुखिया यानि सीएम वीरभद्र सिंह से जुड़ा है। आईपीएच विभाग ने उनके मामले में ही इतनी लापरवाही बरती है तो आम आदमी के साथ क्या गुजर रही होगी, खुद ही अंदाज़ा लगाया जा सकता है।

rohruरोहड़ू में आठ साल पहले निर्माणाधीन आईपीएच योजना अभी नहीं हुई चालू

सीएम वीरभद्र सिंह के पुराने विधानसभा क्षेत्र रोहड़ू में लगभग आठ साल पहले आईपीएच की स्कीम बननी शुरू हुई थी। इसके पानी से सीएम की भूमि भी लाभान्वित होनी थी, लेकिन इतना अरसा बीत जाने के बावजूद स्कीम का काम ही पूरा नहीं हो पाया है। इससे सीएम की भूमि तक पानी ही नहीं पहुंचा। सोमवार शाम सीएम वीरभद्र सिंह ने इसी मसले पर आईपीएच विभाग की आपात बैठक बुलाई थी।

इसमें शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के साथ ही ठियोग के मुद्दों पर भी चर्चा हुई, लेकिन मुख्य एजेंडा रोहड़ू की स्कीम का ही था। सीएम ने जैसे ही इसके बारे में पूछा, आईपीएच विभाग की सचिव अनुराधा ठाकुर सहित अन्य अधिकारी भी हक्के-बक्के रह गए। उन्हें योजना की जानकारी ही नहीं थी, चूंकि मामला बहुत ही पुराना है और उसके बाद कई अधिकारी बदल चुके हैं। सीएम वीरभद्र सिंह ने विभाग के आला अधिकारियों से रोहड़ू में शुरू हुई इस योजना की पूरी रिपोर्ट मांगी है।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है