Covid-19 Update

58,777
मामले (हिमाचल)
57,347
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,123,619
मामले (भारत)
114,991,089
मामले (दुनिया)

Shimla: दो संस्थाओं की लड़ाई के बीच उलझा IGMC का रेन बसेरा, धरने पर बैठे ऑलमाइटी संस्था अध्यक्ष

ऑलमाइटी संस्था के अध्यक्ष ने अस्पताल पर लगाए राजनीति करने के आरोप नोफल ने नकारे सभी आरोप

Shimla: दो संस्थाओं की लड़ाई के बीच उलझा IGMC का रेन बसेरा, धरने पर बैठे ऑलमाइटी संस्था अध्यक्ष

- Advertisement -

शिमला। देश के सबसे बड़े अस्पताल आईजीएमसी शिमला (IGMC Shimla) में लंगर को लेकर दो संस्थाओं के सरदारों के बीच जंग छिड़ गई है। कैंसर अस्पताल में ऑलमाइटी संस्था के सर्वजीत सिंह पिछले लंबे समय से लंगर (Langar) चला रहे हैं। उसी जगह एक रेन बसेरा बना है, जिसमें 50 बेड की व्यवस्था की गई है। यह जगह टेंडर द्वारा नोफल के गुरमीत सिंह कि संस्था को दे दी गई है। इस जगह को लेकर अब इन दोनों सरदारों के बीच जंग तेज हो गई है। ऑलमाइटी संस्था के अध्यक्ष (President of Almighty) सर्वजीत सिंह बॉबी इस जगह को लेकर अस्पताल प्रशासन पर राजनीति करने के आरोप लगा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Mandi में वाहन ओवरटेक करने को लेकर झगड़ा, जमकर चले लात-घूंसे और डंडे, क्रास FIR

विरोधस्वरूप सर्वजीत सिंह आज शिमला के रिज स्थित अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की प्रतिमा के सामने धरने पर बैठ गए। उनका कहना है कि कैंसर अस्पताल में वह लंबे समय से लंगर चला रहे हैं। जो रेन बसेरा बनाया गया है उसको बनाने में उनका बहुत बड़ा योगदान रहा है, लेकिन अब इस जगह को गुपचुप तरीके से टेंडर (Tender) के माध्यम से किसी अन्य को देना गलत है। वहीं, नोफल संस्था के अध्यक्ष गुरमीत सिंह का कहना है कि उन्हें टेंडर के माध्यम से ये जगह अलॉट हुई है। वह उस जगह रेन बसेरा चला रहे हैं, इसमें राजनीति का कहीं सवाल नहीं उठता है, वह भी जनसेवा के भाव से आईजीएमसी में काम करने जा रहे हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है