Covid-19 Update

58,460
मामले (हिमाचल)
57,260
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,063,038
मामले (भारत)
113,544,338
मामले (दुनिया)

रात को धोती हैं बाल तो हो जाइए सावधान, हो सकती हैं लकवे का शिकार

रात को धोती हैं बाल तो हो जाइए सावधान, हो सकती हैं लकवे का शिकार

- Advertisement -

अपनी बिजी लाइफ में आप कई बार अपनी रूटीन खराब लेते हैं। आपके खाना खाने से लेकर नहाने और बाल धोने तक का समय निर्धारित नहीं रह जाता। बहुत सारी  कामकाजी महिलाएं सुबह के बजाय रात को बाल धोती पसंद करती हैं। यह आपके लिए खतरनाक भी साबित हो सकता है। रात को बाल धोने के बहुत नुकसान होते हैं जो शायद आपको पता भी न हों। हम ऐसे ही कुछ नुकसानों के बारे में आपको बताने जा रहे हैं …

जब भी आप गीले बालों में आकर सोती हैं तो आपके गीले बाल सीधे तकिए और उसके कवर के संपर्क में आते हैं। इसके अलावा कई बार होता है कि बालों का पानी सुखाने के ल‍िए आप गीले टॉवेल को अपने बेड पर रख देती है। ऐसा करके आप बैक्‍टीर‍िया को पनपने के ल‍िए एक माहौल बना देती है।

तापमान में एक बड़ा अंतर होने के कारण गर्दन के आसपास की मांसपेशियों पर ऐंठन की शिकायत हो जाती है। बाल नहीं सुखाने के कारण आपके गर्दन के आसपास आपको यह ऐंठन महसूस होती है। लेकिन इससे भी खतरनाक बात है कि इस वजह से आपको पूरे शरीर में लकवा होने के साथ आपको चेहरे का लकवा भी हो सकता है।

बहुत अधिक ठंडे तापमान वाली जगहों पर हाइपोथेरमीया (hypothermia) होने की सम्भावना होती है जो आपकी रोग-प्रतिरोधक शक्ति को प्रभावित करता है। अगर तापमान बहुत कम है या बहुत ठंड है तो किसी भी प्रकार के इंफेक्शन से बचने के लिए आप अपने बालों को तौलिए से थपथपाकर सुखा सकते हैं या गीले बालों में सोना आपको पसंद नहीं तो आप सोने से पहले उन्हें पूरी तरह सुखा सकते हैं। गीले बालों में सोने से आपको तब तक इंफेक्शन नहीं होगा जब तक कि आप किसी ऐसे व्यक्ति के सम्पर्क में न आएं जिसे फ्लू या सर्दी का इंफेक्शन हो।

गीले बालों के साथ सोने से सिर की त्वचा में नमी रहती है जो कि एक अलग प्रकार की खुजली का कारण बन सकती है। गीले बाल अधिक टूटते हैं। अगर आप अकसर गीले बालों के साथ सोते हैं तो संभव है कि बाल टूटने की संभावना अधिक हो जाए। गीले बालों में जड़े नम हो जाती है इस वजह से हेयरफॉल बढ़ जाती है। गीले बालों के साथ सोने की वजह से आपके बाल उलझ जाते है और चिपचिपे हो जाते है। खासकर जिन लोगों के बाल लंबे हैं उन्हें गीलें बालों के साथ नहीं सोना चाहिए, उन्‍हें हेयरफॉल की समस्याएं ज्‍यादा हो सकती है।

नम खोपड़ी सिर में मौजूद सेबेशियस ग्लांड्स के कार्य को प्रभावित करती है। इसके कारण कम या ज्यादा तेल उत्पन्न हो सकता है। इसके कारण सिर का पीएच संतुलन बिगड़ जाता है। रिजल्ट स्वरुप या तो रूसी या अत्यधिक तेलयुक्त खोपड़ी की समस्या हो सकती है।

गीले बालों में सोने का सबसे कॉमन समस्‍या जो होती है वो है सुबह उठते समय आपको बहुत सिरदर्द होता है। जिसका कारण होता है कि तेजी से तापमान में फर्क आना।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है