Covid-19 Update

59,059
मामले (हिमाचल)
57,473
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,204,179
मामले (भारत)
116,873,133
मामले (दुनिया)

Twitter पर ट्रेंड कर रहे वसीफ जाफर ने दिया CAU के आरोपों का जवाब, पूर्व खिलाड़ी भी समर्थन में

उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन ने लगाए थे मजहब के आधार पर चयन के आरोप

Twitter पर ट्रेंड कर रहे वसीफ जाफर ने दिया CAU के आरोपों का जवाब, पूर्व खिलाड़ी भी समर्थन में

- Advertisement -

नई दिल्ली। उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन (Uttarakhand Cricket Association) से मतभेदों के बाद भारत के पूर्व खिलाड़ी वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने कोच पद से इस्तीफा (Resignation) दे दिया था। इसके बाद सीएयू के सचिव सचिव माहिम वर्मा (CAU Secretary Secretary Mahim Verma) ने वसीफ जाफर पर आरोप लगाए गए कि वो मजहब के आधार पर खिलाड़ियों का चयन कर रहे थे। इसके बाद वसीम जाफर ने भी इसका जवाब (Wasim Jaffer Reply) दिया है। इसके अलावा कई पूर्व खिलाड़ी भी खुलकर वसीम जाफर के समर्थन में उतर आए हैं। वसीम जाफर ने कहा था कि जो धार्मिक (Religious) एंगल मामले में लाया गया वो दुखद है। वसीम जाफर ने कहा कि मुझ पर आरोप (Allegation) लगया गया कि मैं इकबाल अब्दुल्ला (Iqbal Abdullah) का समर्थन करता हूं और इकबाल को ही कप्तान बनाना चाहता था। उन्होंने कहा कि यह झूठ है। बकौल वसीम जाफर, मैं जय बिस्टा को कप्तान बनाना चाहता था, लेकिन रिजवान शमशाद और दूसरे चयनकर्ताओं ने सुझाव दिया कि इकबाल को कप्तान बनाया जाना चाहिए। वो सीनियर खिलाड़ी है और आईपीएल भी खेल चुका है। इसके बाद मैंने उनका सुझाव मान लिया।

यह भी पढ़ें :- #INDvENG : चेन्नई टेस्ट मैच हारा भारत, भारतीय टीम की इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू मैदान पर सबसे बड़ी हार

इसके अलावा पूर्व भारतीय गेंदबाज अनिल कुंबले ने भी वसीम जाफर का समर्थन किया। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि आपके साथ हूं वसीम। आपने सही किया। वो दुर्भाग्यशाली खिलाड़ी हैं जिन्हें आपके मेंटर नहीं होने की कमी खलेगी। इसके अलावा इरफान पठान ने भी ट्विट कर लिखा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि आपको यह सब एक्सप्लेन करना पड़ रहा है। मौलवी को बुलाने पर वसीम जाफर ने सफाई दी है। उन्होंने कहा है कि बायो बबल में मौलवी आए और हमने नमाज पढ़ी, लेकिन मैंने मौलवी को नहीं बुलाया था। जो मौलवी देहरादून में शिविर के दौरान दो या तीन शुक्रवार को आए, उन्हें मैंने नहीं बुलाया था। उन्होंने कहा कि इकबाल अब्दुल्ला ने मेरी और मैनेजर की अनुमति जुमे की नमाज के लिए मांगी थी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है