- Advertisement -

Hope : जलरक्षकों को New Year में Salary मिलने की आस

0

- Advertisement -

गफूर खान/धर्मशाला। सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग द्वारा पंचायतों में रखे गए जलरक्षकों को नए साल यानी जनवरी माह में वेतन मिलने की उम्मीद है।प्रदेशभर में कार्यरत 4560 जलरक्षकों को अप्रैल माह से वेतन नहीं मिला है। पहले इन जलरक्षकों को 1350 रुपए प्रतिमाह वेतन के रूप में दिए जाते थे। विभिन्न मंचों पर सरकार से आग्रह करने के बाद इस वर्ष अप्रैल माह में प्रदेश सरकार ने जलरक्षकों के वेतन में 150 रुपए की वृद्धि की थी।

  • आठ माह से नहीं मिला है वेतन
  • सितम्बर माह से देय होगा बढ़ा हुआ वेतन
  • 4560 जलरक्षक कार्यरत हैं प्रदेश में

salleryइस वृद्धि के बाद जलरक्षकों को 1500 रुपए प्रतिमाह वेतन मिलना था, लेकिन उन्हें आज दिन तक वेतन नहीं मिला। सरकार ने यह भी स्पष्ट किया है कि जलरक्षकों को बढ़ा हुआ वेतन सितम्बर माह से देय होगा। यानी इस वर्ष 1500 रुपए के रूप में सिर्फ चार माह का वेतन ही जलरक्षकों को मिलेगा। सरकार ने जनवरी माह में यह वेतन प्रदान करने की बात कही है।

गौरतलब है कि जलरक्षकों की नियुक्ति दो से तीन घण्टे काम करने के लिए की गयी थी। लेकिन अब विभाग में कर्मचारियों की कमी के चलते कई स्थानों पर यह लोग पूरा पूरा दिन सेवाएं देते हैं। जलरक्षकों की भी यह मांग रही है कि उनके काम को देखते हुए उन्हें एक सम्मानजनक वेतन प्रदान किया जाए। प्रदेश में जिला कांगड़ा में सबसे अधिक 1499 जलरक्षक वर्तमान में सेवाएं दे रहे हैं। वहीं, जिला किन्नौर में सबसे कम 4 लोग बतौर जलरक्षक सेवारत हैं। इसके अतिरिक्त जिला मंडी में 473, कुल्लू में 234, लाहुल स्पिति में 60, हमीरपुर में 399, बिलासपुर में 355, ऊना में 184, चंबा में 127, सिरमौर में 212, सोलन में 387 और जिला शिमला में 626 जलरक्षक सेवाएं दे रहे हैं। सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य मंत्री विद्या स्टोक्स का कहना है कि जलरक्षकों को जनवरी माह में उनका वेतन देने के प्रयास किए जाएंगे। उनका कहना है कि जलरक्षकों को बढ़ा हुआ वेतन सितंबर माह से दिया जाएगा।

- Advertisement -

Leave A Reply