×

क्‍या मारा गया है आतंकी मसूद अजहर, पाकिस्‍तान में चल रही चर्चाएं

क्‍या मारा गया है आतंकी मसूद अजहर, पाकिस्‍तान में चल रही चर्चाएं

- Advertisement -

 इस्लामाबाद। आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के सरगना मसूद अजहर की मौत को लेकर अटकलों का दौर चल रहा है। चर्चा है कि मसूद अजहर 23 जून को पाकिस्तान (Pakistan) के रावलपिंडी शहर के अमीरात मिलेट्री अस्पताल में हुए धमाके (Blast)  में मारा गया है। यह भी सुगबुगाहट है कि क्या खुद पाकिस्तान सेना (Pak Army) ने किडनी का इलाज करवा रहे अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी (International Terrorist) मसूद अजहर को मौत के घाट उतार दिया है।  ऐसी चर्चाएं भारत में नहीं बल्‍की पाकिस्‍तान में हो रही हैं। इन पर भारतीय एजेंसियां नजरें बनाए हुए हैं। इसी कड़ी में पीटीएम कार्यकर्ता अहसान उल्लाह मियाखैल ने घटना वाले दिन एक ट्वीट में लिखा था कि रावलपिंडी के सैन्य अस्पताल में भीषण विस्फोट हुआ। दस लोगों को एमरजेंसी में ले जाया गया है। जैश सरगना मौलाना मसूद अजहर को यहां भर्ती किया गया है। सेना ने मीडिया (Media) को पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया है। मीडिया को सख्ती से कहा गया है कि वह यह स्टोरी कवर नहीं करे। ऐसे ही एक अन्य ट्वीट में बताया गया कि पाकिस्तान के रावलपिंडी स्थित सैन्य अस्पताल में भीषण विस्फोट हुआ है। यह वही अस्पताल है जहां संयुक्त राष्ट्र की ओर से अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित मौलाना मसूद अजहर का किडनी फेल होने पर इलाज चल रहा है। पाकिस्तानी सेना अब मसूद अजहर की हत्या करना चाहती है क्योंकि वह अब उनके लिए बोझ बन गया है।


 

यह भी पढ़ें: नया बिल पेश: सड़क हादसे में मौत पर 5 लाख और घायल को 2.5 लाख देगी सरकार

 

हालांकि रावलपिंडी में हुए धमाके को आधिकारिक रूप से किसी भी पाकिस्तानी मीडिया ने कवर नहीं किया है। पाकिस्तानी मीडिया ने सेना के हवाले से केवल इतना बताया कि सिलेंडर ब्लॉस्ट के कारण विस्फोट ने भयानक रूप ले लिया। इस हादसे में दस लोग घायल हुए लेकिन किसी की भी मौत नहीं हुई है। इसी तरह आमतौर पर विश्वसनीय माने जाने वाले फरन जैफरी ने अपने ट्विटर हैंडिल पर बताया कि अस्पताल में विस्फोट का कारण तकनीकी गड़बड़ी था। मसूद अजहर को एक अन्य सैन्य अस्पताल में पहुंचा दिया गया है। इसके बाद इसी विषय पर बलोचवर्ना ने एक लेख प्रकाशित किया। इसी तरह एमक्‍यूएम पार्टी के एक प्रभावशाली नेता डॉ. नदीम अहसान ने सबसे पहले ट्वीट करके यह दावा किया था कि मसूद अजहर रावलपिंडी (Rawalpindi) विस्फोट में मारा जा चुका है। उसकी नमाज-ए-जनाजा कराची में महमूदाबाद मस्जिद में पढ़ी गई है। उन्होंने उनके इस दावे को ठुकराने पर मस्जिद को भी चुनौती दी थी। एमक्‍यूएम (MQM)  पार्टी के निर्वासित नेता अल्ताफ हुसैन के भी ऐसा ही दावा करने के एक दिन बाद ही बलोचवरना ने भी यह कहानी बताई। फि‍लहाल आधिकारिक रूप से इस बारे में कोई कुछ नहीं कह रहा है और सच्‍चाई पाक सेना के सीने में दफन है।

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है