Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

ठंड के आगोश में पूरा भारत, ठंड से जमी डल झील, मुगल रोड पर आवागमन ठप

ठंड के आगोश में पूरा भारत, ठंड से जमी डल झील, मुगल रोड पर आवागमन ठप

- Advertisement -

नई दिल्ली। इस समय पूरा भारत ठंड के आगोश में है। कड़ाके की ठंड ने लोगों का जीना दुश्वार कर दिया है। ठंड के कारण श्रीनगर की डल झील जमने से जहां लोगों का रोजगार पूरी तरह से ठप हो गया, वहीं बच्‍चे इसका पूरा लुत्‍फ उठा रहे हैं। बच्‍चों ने डल झील को अब बर्फ का क्रिकेट ग्राउंड बना लिया है और इस पर क्रिकेट खेल रहे हैं। वही दिल्ली में कड़ाके की ठंड जारी है। बुधवार को दिल्ली का न्यूनतम तापमान 3.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। ठंड की वजह से लद्दाख क्षेत्र को कश्मीर से जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग और ऐतिहासिक मुगल रोड को बंद कर दिया गया है।

पंजाब और हरियाणा के तापमान में भी गिरावट

पंजाब और हरियाणा में लोगों को शीतलहर से कोई राहत नहीं मिली। दो सप्ताह से सामान्य से कम चल रहा तापमान मंगलवार को और गिर गया। मौमस विभाग के अनुसार अमृतसर और आदमपुर में न्यूनतम तापमान 0.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हरियाणा में नारनौल 2.5 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा। हिसार में न्यूनतम तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस रहा।

सबसे ज्यादा ठंड श्रीनगर और हिमाचल में

ठंड का सबसे ज्‍यादा असर हिमाचल प्रदेश और श्रीनगर में देखने को मिल रहा है। हिमाचल प्रदेश की लाहौल घाटी में जहां ठंड बढ़ने के साथ ही नदी और नाले जमने लगे हैं, वहीं श्रीनगर की डील झील बर्फ का मैदान बन गई है। डल डील में बर्फ की इतनी मोटी चादर जमने लगी है कि बच्‍चे इसपर क्रिकेट तक खेल रहे हैं। श्रीनगर के काजीगुंड में तापमान शून्य से 5।3 डिग्री नीचे रिकॉर्ड किया गया है। ठंड के चलते लद्दाख क्षेत्र को कश्मीर से जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग और ऐतिहासिक मुगल रोड को बंद कर दिया गया है। यहां पर बर्फ की इतनी मोटी लेयर जम चुकी है कि यहां आना लोगों के लिए खतरनाक साबित होने लगा है।

चंद्रभागा और सहायक नदियां भी जमीं

घाटी की प्रमुख के रूप में जानी जाने वाली नदी चंद्रभागा और इसकी सहायक नदियां गिरते तापमान के चलते जमने लगी हैं। यहां दिन का तापमान माइनस 5 से छह डिग्री और रात का तापमान माइनस 16 से 18 डिग्री पर पहुंच गया है। चंद्रभादगा नदी के वाम तट में स्थित प्यूकर, ग्वाजंग, पसप्राग, गौशाल, मूलिंग, चंद्रावैली व तिंदी में धूप सुबह 11 बजे तक निकलती है और दो से ढाई बजे के बाद धूप खिलना बंद हो जाती है। मात्र दो से तीन घंटे की धूप में ही लोगों का घरों से बाहर निकलना होता है

उत्तर प्रदेश और राजस्थान का भी तापमान गिरा

उत्तर प्रदेश का अधिकतर हिस्से शीतलहर की चपेट में है। वहीं कुछ क्षेत्रों में मध्यम कोहरा देखा गया। मुजफ्फरनगर राज्य में सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार इलाहाबाद, मेरठ, फैजाबाद, लखनऊ और बरेली मंडलों में रात का तापमान सामान्य से काफी नीचे दर्ज किया गया जबकि राजस्थान में शीतलहर के बीच कई हिस्सों में घना कोहरा रहा। श्रीगंगानगर, चुरू, पिलानी, सीकर और जयपुर में यातायात प्रभावित हुआ जहां दृश्यता 50 से 90 मीटर जबकि बीकानेर, अलवर, भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में 90 से 100 मीटर रहा। अलवर, पिलानी, सीकर, चुरू और श्रीगंगानगर में शीतलहर से सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है