×

क्यों जरूरी है 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए कोरोना का टीका, पढ़ें रिपोर्ट

ज्यादा प्रभावित जिलों में जल्दी वैक्सीनेशन का है टारगेट

क्यों जरूरी है 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए कोरोना का टीका, पढ़ें रिपोर्ट

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत में कोरोना की दूसरी वेव (Corona Second Wave) भयंकर रूप धारण करती जा रही है। हालात यह हैं कि कई राज्यों में फिर से बच्चों के लिए स्कूल (School) बंद कर दिए गए हैं तो वहीं कई शहरों में संपूर्ण लॉकडाउन (Lockdown) लगा दिया गया है। महाराष्ट्र और पंजाब सहित कई ऐसे राज्य हैं जहां हालात बेकाबू हो चुके हैं। उधर, कोरोना की दूसरी वेव को देखते हुए केंद्र सरकार ने भी कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) का दायरा बढ़ा दिया है। आज से भारत में 45 साल से ज्यादा उम्र के हर व्यक्ति को कोरोना का टीका (Corona Vaccine) लगाने का अभियान शुरू हो गया है। ऐसे में इस खबर में जानते हैं कि आखिर सरकार 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों पर क्यों ज्यादा फोकस कर रही है और अगर आप 45 साल से ज्यादा उम्र के हैं तो क्यों आपको कोरोना का टीका (Corona Vaccine) लगाना बेहद जरूरी है।


यह भी पढ़ें: 45 पार वालों का उत्साह, Corona Vaccination के लिए यहां लग गई लंबी लाइन

आपको बता दें जो जिला कोरोना से ज्यादा प्रभावित (Corona Affected District) हैं उन जिलों में दो हफ्ते में वैक्सीनेशन पूरा करने का सरकार द्वारा लक्ष्य रखा गया है। अब सवाल उठता है कि 45 साल की उम्र सीमा पर सरकार द्वारा वैक्सीनेशन को लेकर क्यों जोर दिया जा रहा है। दरअसल कोरोना महामारी के आंकड़ों पर गौर करें तो भारत में अब तक इस कोरोना से ग्रसित 90 फीसदी से अधिक मौतें 45 साल से अधिक उम्र के लोगों की हुई हैं।

हालांकि सरकार द्वारा पहली अप्रैल से कोरोना वैक्सीनेशन (Vaccination) का दायरा बढ़ाने का काम शुरू किया गया, लेकिन इसकी मांग लंबे समय से उठ रही थी। आपको बता दें कि 45 से 60 साल आयु वर्ग का तबका है जो वर्किंग क्लास से जुड़ा है। इस उम्र के रोज दफ्तरों के काम अन्य कामों के लिए भी रोजाना बाहर आते हैं। इसके अलावा कोरोना डेथ (Corona Death) के आंकड़े भी कुछ इसी ओर इशारा कर रहे हैं। इसलिए जरूरी है कि 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को सुरक्षा मुहैया करवाई जाए।

यह भी पढ़ें: मुंबई में 49 दिन में 91 हजार कोरोना केस, 74 हजार लोगों में कोई लक्षण ही नहीं

गौरतलब रहे कि भारत (India) में 16 जनवरी को कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत हुई थी। अब तक कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) को करीब 75 दिन हो चुके हैं और अभी तक करीब 6.5 करोड़ कोरोना के डोज दिए जा चुके हैं। इसमें 82 लाख से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका लग चुका है। इसके अलावा 91 लाख से अधिक फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी कोरोना का टीका (Corona Vaccine) लगा दिया गया है। इसके बाद भारत में पहली मार्च से 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना वैक्सीन लगवाने का मौका दिया गया है। भारत में अभी तक तीन करोड़ से अधिक 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाई है। देश में अभी एक दिन में औसतन 20 से 25 लाख वैक्सीन की डोज दी जा रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है