Covid-19 Update

2,63,914
मामले (हिमाचल)
2, 48, 802
मरीज ठीक हुए
3944*
मौत
40,371,500
मामले (भारत)
363,221,567
मामले (दुनिया)

25 दिसंबर को नहीं कहा जाता हैप्पी क्रिसमस, मैरी शब्द का क्यों होता है इस्तेमाल

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ भी कहा करती थी हैप्पी क्रिसमस

25 दिसंबर को नहीं कहा जाता हैप्पी क्रिसमस, मैरी शब्द का क्यों होता है इस्तेमाल

- Advertisement -

दुनिया भर में कई त्योहार मनाए जाते हैं। जब भी कोई त्योहार आता है तो लोग एक-दूसरे को त्योहार के साथ हैप्पी (Happy) शब्द लगाकर त्योहार की मुबारकबाद देते हैं, जैसे हैप्पी दीवाली, हैप्पी होली आदि। जबकि हर साल 25 दिसंबर को मनाए जाने वाले क्रिसमस के त्योहार पर हमेशा मैरी क्रिसमस (Merry Christmas) कह कर विश किया जाता है। कभी भी क्रिसमस के दिन हैप्पी क्रिसमस नहीं कहा जाता है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में क्रिसमस-New Year मनाने आने वाले लोग सीएम जयराम की ये बात जरूर पढ़ें

गौरतलब है कि मैरी और हैप्पी दोनों शब्द का मतलब खुशी है, लेकिन मैरी शब्द क्रिसमस के साथ ज्यादा प्रचलित है। इंग्लैंड में बहुत से लोग मैरी क्रिसमस की जगह हैप्पी क्रिसमस बोलकर एक दूसरे को क्रिसमस की शुभकामनाएं देते हैं। मैरी शब्द को फेमस करने के पीछे मशहूर साहित्यकार चार्ल्स डिकेंस (Charles Dickens) का बहुत बड़ा रोल माना जाता है। करीब 175 साल पहले पब्लिश हुई किताब अ क्रिसमस कैरोल (A Christmas Carols) में सबसे ज्यादा मैरी शब्द का प्रयोग किया गया और जिसके बाद पूरी दुनिया में हैप्पी की जगह मैरी का प्रचलन शुरू हो गया। बता दें कि 18वीं और 19वीं सदी में यूरोप में लोग क्रिसमस पर मैरी क्रिसमस की जगह हैप्पी क्रिसमस बोलकर एक दूसरे को शुभकामनाएं दिया करते थे। वहीं, ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ (Queen Elizabeth) भी हैप्पी क्रिसमस कहा करती थी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है