Covid-19 Update

1,32,763
मामले (हिमाचल)
99,188
मरीज ठीक हुए
1906
मौत
22,662,575
मामले (भारत)
159,067,118
मामले (दुनिया)
×

शिक्षा निदेशक बोलेः स्कूलों ने क्यों नहीं खर्चा अतिरिक्त बजट, होगी जांच

शिक्षा निदेशक बोलेः स्कूलों ने क्यों नहीं खर्चा अतिरिक्त बजट, होगी जांच

- Advertisement -

कुल्लू। स्कूलों ने अतिरिक्त बजट क्यों खर्च नहीं किया, इसकी जांच (Investigation)होगी। इस बात का खुलासा निदेशक प्रारंभिक शिक्षा विभाग रोहित जम्बाल ने किया है। कुल्लू (Kullu) के देवसदन में हिमाचल प्रदेश प्रारंभिक स्कूली क्रीड़ा संगठन की वार्षिक राज्य स्तरीय बैठक में निदेशक प्रांरभिक शिक्षा विभाग रोहित जम्बाल ने कहा कि पिछले वर्ष में प्रदेश के सभी जिला ने अतिरिक्त बजट लिया है और कई स्कूलों ने बजट खर्च नहीं किया और कई जिलों ने बजट वापस किया है। उन्होंने कहा कि इसकी  जांच की जाएगी की किन जिलों ने अतिरिक्त बजट मांगा और क्यों खर्च नहीं किया। उन्होंने कहा कि आगामी समय में छात्र खिलाड़ियों की डाइट मनी (Diet money) बढ़ाने के लिए प्रयास किए जाएंगे।


यह भी पढ़ें:  एचपीयू के प्रोफेसर प्रमोद शर्मा सस्पेंड, चार्जशीट भी-जानिए कारण

निदेशक प्रारंभिक शिक्षा विभाग रोहित जम्बाल ने बताया कि वार्षिक खेलकूद कैलेंडर (Annual sports calendar) जारी किया। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक शिक्षा में खंड व जिला स्तर व प्रदेश स्तर पर जो समस्या आती हैं उनको लेकर विस्तार से चर्चा हुई है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष भी अंडर-14 में छात्र-छात्राओं का बेहतर प्रदर्शन रहा है और इस वर्ष भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि अंडर-14 का दायित्व प्रारंभिक शिक्षा विभाग के पास है और उन्होंने कहा कि 9 वीं व 10 वीं कक्षा के छात्र खिलाड़ियों के खर्च के लिए सरकार के समक्ष विषय उठाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: जयराम सरकार की कैबिनेट बैठक तय, दो चेहरे नहीं होंगे अंदर, ये है कारण


ऊना में होंगी प्रारंभिक शिक्षा विभाग की अंडर-14 राज्य स्तरीय खेलें

जिला मुख्यालय देवसदन में हिमाचल प्रदेश प्रारंभिक स्कूली क्रीड़ा संगठन की वार्षिक राज्य स्तरीय बैठक हुई, जिसमें निदेशक प्रारंभिक शिक्षा विभाग रोहित जम्बाल ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। बैठक में  संयुक्त निदेशक प्रारंभिक हितेश आजाद, संयुक्त नियंत्रक वित्त एवं लेख निदेशालय प्रारंभिक शिक्षा सीआर शर्मा सहायक निर्देशक क्रीड़ा राजेश ठाकुर, सभी जिला के प्रारंभिक उपनिदेशक ने भाग लिया। बैठक में प्रारंभिक शिक्षा विभाग की अंडर-14 खेलकूद प्रतियोगिता के राज्य स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता (State level sports competition) का वेन्यू डिसाइड किया। इसमें अंडर -14 छात्राओं की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता ऊना में होगी और छात्रों की मेजर गेम्स सुंदरनगर व माइनर गेम्स सोलन नालागढ़ में आयोजित होंगी।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंगः क्लर्क टाइपिंग टेस्ट का रिजल्ट आउट, 71 अभ्यर्थी रहे सफल

एथलेटिक्स हमीरपुर, चैस मंडी, सांस्कृतिक प्रतियोगिता कुल्लू जिला के बजौरा में आयोजित होगी। इस वर्ष प्रारंभिक शिक्षा विभाग ने लिया निर्णय कि सांस्कृतिक प्रतियोगिता राज्य स्तर पर अलग से आयोजित होंगी और यह पहला मौका होगा, जब अंडर-14 के छात्र-छात्राओं की सांस्कृतिक प्रतियोगिता कुल्लू जिला में होगी।

यह भी पढ़ें:  सोलनः बैंक से धोखाधड़ी, तीन करोड़ जमा करवाए बिना कंपनी बंद कर फरार

बैठक में खेलकूद कार्यक्रमों के आयोजन के लिए आने वाली विभिन्न समस्याओं पर विस्तार चर्चा हुई जिसमें छात्र खिलाड़ियों (Student Players) की डाइट मनी बढ़ाने व 9 और 10 कक्षा के खिलाड़ियों को अंडर-14 में उम्र के हिसाब से खेलकूद गतिविधियों में भाग लेगे। शारीरिक शिक्षक संघ के राज्य अध्यक्ष ने निदेशक से स्कूली में पीईटी और डीपी के खाली पदों को भरने के लिए निवेदन किया और बच्चों के सर्वांगिण विकास के लिए सभी स्कूलों के शारीरिक शिक्षकों के खाली पदों को भरा जाए, ताकि भविष्य में प्रदेश से अच्छे खिलाड़ी प्रदेश व देश का नाम रोशन कर सकें।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है