Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

राखी बांधने के बहाने बहन बनकर जेल पहुंचीं पत्नियां, पुलिस ने भगाया

राखी बांधने के बहाने बहन बनकर जेल पहुंचीं पत्नियां, पुलिस ने भगाया

- Advertisement -

ग्रेटर नोएडा। यहां के गौतम बुद्ध नगर जिला जेल में रक्षाबंधन पर कई पत्नियां बहन बनकर राखी बांधने पहुंच गईं। रक्षाबंधन पर जेल प्रशासन ने कैदियों को खुले पार्क में परिजनों से मिलने का इंतजाम किया था। लेकिन कैदियों ने जैसे ही पत्नियों को देखा तो उन्हें बाहों में भर लिया। पत्नी को बाहों में भरते ही पोल खुल गई। इसके बाद ऐसी महिलाओं को बाहर निकाला गया।

जेल के अंदर खुले पार्क में 51 पुलिसकर्मी अतिरिक्त लगाए गए थे। देर शाम तक 2 हजार से अधिक महिलाएं जेल में बंद भाइयों को राखियां बांधने पहुंचीं। इनमें 100 से अधिक मुस्लिम महिलाओं ने जेल में पहुंचकर अपने भाइयों को राखी बांधकर रक्षाबंधन का त्योहार मनाया।


साहब वो बहन नहीं बीवी है

इस बीच बड़ी संख्या में पत्नियां भी राखियां लेकर खुद को बहन बताकर पति से खुली मुलाकात करने पहुंच गईं। पति-पत्नी लंबे समय बाद खुले आसमान के नीचे मिलकर एक-दूसरे को बाहों में भरने से रोक नहीं पाए। इसी बीच कई बंदियों ने भी अपने साथी बंदियों के बारे में कारागार प्रशासन को अवगत कराया कि साहब उससे जो महिला मिलने आई है वह बहन नहीं, बल्कि पत्नी है। इसके बाद पत्नियों की पहचान कर उन्हें बाहर निकाला गया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है