Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

आरोपः महिला से पुलिस कर्मियों ने की मारपीट, नन्हीं बच्ची को भी नहीं बक्शा

आरोपः महिला से पुलिस कर्मियों ने की मारपीट, नन्हीं बच्ची को भी नहीं बक्शा

- Advertisement -

रैहन। एक बार फिर खाकी विवादों में घिरती नजर आ रही है। अब फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र के तहत पड़ते बड़ी बतराहण पंचायत की एक महिला ने रैहन पुलिस चौकी के दो पुलिस कर्मियों पर गाली-गलौज व मारपीट करने के आरोप लगाए हैं। जाति सूचक शब्द कहने का भी संगीन आरोप जड़ा है।
साथ ही उसकी नन्हीं बेटी के साथ मारपीट कर उसे खड्डे में धकेलने का भी आरोप लगाया है। वहीं, महिला व उसके परिजनों पर मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों से बैग छिनने, पत्थरों से हमला करने व अभद्र व्यवहार किए जाने की शिकायत पुलिस चौकी रैहन में की गई है।
जानकारी अनुसार बड़ी बतराहण पंचायत की निवासी अनु बाला पत्नी इशु कुमार ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को ऑनलाइन शिकायत की है। आरोप लगाया है कि शनिवार शाम छह बजे दो पुलिस वाले उनके घर पहुंच कर गाली-गलौज करने लग पड़े। उन्होंने घर में शौचालय के निर्माण के लिए खड्डे का कार्य चलाया हुआ था। रैहन पुलिस के दो एचसी अशोक कुमार व उनके साथी ने गाली-गलौज किया व मेरे साथ मारपीट शुरू कर दी।  जाति सूचक शब्द कहने के साथ अपशब्दों का प्रयोग किया। कहा कि हम पुलिस वाले होते हैं, हम अंदर करने में एक मिनट का समय भी लगाते हैं। पीड़िता ने बताया कि जब उसी वक्त उनके पति घर पहुंचे तो उन्होंने पुलिस वालों को पूछा कि आप को‌ किसी ने शिकायत की है या कोई कोर्ट के आदेश हैं तो पुलिस ने कहा कि तुम ज्यादा कानूनी मत बनो। हम पुलिस वाले हैं। हम आप जैसों को सीधा करना जानते हैं।

महिला बोली, बिना महिला आरक्षी पुलिस वालों ने कैसे लगाया हाथ

पीड़िता का कहना है कि पुलिस ने उसके व उसकी नन्ही बेटी के साथ मारपीट की व साथ में बने खड्डे में धकेल दिया। महिला आरक्षी न होते हुए पुलिस वालों ने उन्हें कैसे पकड़ा।  पीड़िता महिला व उसके परिजनों ने इंसाफ की गुहार लगाते हुए ऐसे पुलिस वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने की मांग की है ।
वहीं, डीएसपी साहिल अरोड़ा का कहना है कि इस मामले पर जांच की जाएगी, जो भी दोषी हुआ उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं, महिला व परिजनों पर मौका पर पुलिस का बैग छिन कर ले जाने व अभद्र व्यवहार करने की शिकायत भी रैहन पुलिस ने दर्ज की है। वहीं, एसपी संतोष पटियाल का कहना है कि पुलिस की सोच आम लोगों से तालमेल बढ़ाना है, न की वर्दी से डराना। शिकायत आई है, जिस पर जांच की जा रही है।

क्या कहना है पुलिस कर्मी का

मौके पर गए एचसी अशोक कुमार से इस बारे में पूछा तो उन्होंने सारे आरोपों को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि गांव के ही एक बुजुर्ग पूर्व सैनिक उनके पास आए थे। उन्होंने कहा कि उसकी जमीन को जेसीबी से उखाड़ा जा रहा है। इसके बाद वह अन्य पुलिस कर्मी के साथ मौके पर गए। वहां पर जेसीबी लगी थी। उन्होंने इशु कुमार (महिला के पति) व एक अन्य परिजन  को कहा कि इस जमीन का विवाद चला हुआ है। आप जमीन की निशानदेही करवाओ और जिसकी भी निकलती है, कब्जा लो। इस पर इशु कुमार गुस्से में आ गया और उनसे बैग छीन लिया। साथ ही महिलाओं को बुलाकर कहा कि इन पर झूठे आरोप लगाओ। महिला व उसके परिजनों ने उन पर पत्थरों से हमला भी किया। जाति सूचक शब्द कहने के आरोप पर उन्होंने कहा कि हमें न तो इशु कुमार व न ही शिकायतकर्ता बुजुर्ग की जाति के बारे में पता है। ऐसे में हम जाति सूचक शब्द कैसे कहेंगे।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है