Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

घर के बाहर धूप सेंकने बैठी महिला पर बैल ने किया हमला, Hospital ले जाते मौत

घर के बाहर धूप सेंकने बैठी महिला पर बैल ने किया हमला, Hospital ले जाते मौत

- Advertisement -

बिलासपुर। लावारिस पशु और आवारा कुत्ते हिंसक बनते जा रहे हैं। यह लोगों पर हमले कर उनकी जान लेने से भी पीछे नहीं हट रहे हैं। पांवटा साहिब के अमरकोट में आवारा कुत्ताें के हमले में एक सात वर्षीय मासूम की मौत के साथ ही बिलासपुर से भी लावारिस बैल के हमले से महिला की मौत होने का समाचार प्राप्त हुआ है। यह हादसा बिलासपुर के नम्होल के टेपरा गांव में पेश आया। जहां एक लावारिस पशु के हमले से एक महिला की मौत हो गई है।

जानकारी के अनुसार टेपरा गांव की प्रयागु देवी जब आज सुबह धूप सेंकने के लिए घर के बाहर बैठी थी तो उसी समय एक लावारिस बैल ने महिला पर हमला कर दिया।

इस हमले में महिला के सिर और शरीर पर गंभीर चोटें आईं। महिला के चिल्लाने पर परिवार और ग्रामीणों ने बैल को भगाया, जिसके बाद परिजन घायल महिला को नम्होल अस्पताल में ले गए। जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद उसे बिलासपुर अस्पताल के लिए रैफर कर दिया। लेकिन, महिला ने बिलासपुर पहुंचने से पहले ही रास्ते में दम तोड़ दिया। बिलासपुर अस्पताल के डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

स्कूल से आते-जाते बच्चों और बुजुर्गों के लिए आफत बना बैल

ग्रामीणों का कहना है कि आजकल लावारिस पशुओं का एक झुंड लोगों के लिए खासी परेशानी बना हुआ है। नम्होल में छोड़े गए एक लावारिस बैल के बारे में ग्रामीणों ने बताया कि यह बैल स्कूल से आते-जाते बच्चों और बुजुर्गों के लिए आफत बना हुआ है। लावारिस पशुओं को पकड़ने के लिए विभाग को ठोस कदम उठाने चाहिए, ताकि लोगों को इनसे बचाया जा सके। ग्राम पंचायत प्रधान जीत राम ने बतया कि महिला को टक्कर मारने की सूचना मुझे ग्रामीणों ने दी थी, जिससे महिला की मौत हो गई। लावारिस बैल को पकड़ने के लिए पशु विभाग को सूचित किया जाएगा।

Paonta में आवारा कुत्तों ने ले ली सात साल के मासूम की जान

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है