Covid-19 Update

57,162
मामले (हिमाचल)
55,672
मरीज ठीक हुए
958
मौत
10,636,056
मामले (भारत)
98,348,639
मामले (दुनिया)

Police के जवान ने मुंह बोली बहन को बनाया हवस का शिकार, police बना रही समझौते का दबाव

Police के जवान ने मुंह बोली बहन को बनाया हवस का शिकार, police बना रही समझौते का दबाव

- Advertisement -

रेवाड़ी। हरियाणा में रिश्तों को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। जहां एक महिला को उसी के मुंह बोले भाई ने एक नहीं बल्कि कई बार अपनी हवस का शिकार बनाया। उक्त महिला बीते 20 दिनों से थाने के चक्कर काट रही है, लेकिन महिला की फरियाद सुनकर उसकी रिपोर्ट लिखना तो दूर पुलिस उसपर समझौते का दबाव बना रही है। जानकारी के अनुसार पीड़ित महिला अपने घर में अकेली रहती है। महिला के अनुसार हरियाणा पुलिस में कार्यरत उसके मुंह बोले भाई ने उसे कई बार अपनी हवस का शिकार बनाया। साथ ही पुलिस में होने का रौब दिखाते हुए बच्चे के सामने चुप रहने को भी कहा। 

woman raped: 20 दिन बाद भी पुलिस ने नहीं की कोई कार्रवाई

आखिरकार महिला के सब्र का बांध टूटा और उसने मामले की शिकायत एसपी से की। जिसपर एसपी ने मामला रामपुर थाने में भेज दिया। 4 दिन के इंतजार के बाद महिला की शिकायत को महिला थाने भेजा गया, जहां कई दिनो तक चक्कर कटवाने के बाद उसपर समझौते का दबाव बनाया जा रहा है। महिला का आरोप है कि 20 दिन बीत जाने के बावजूद इस मामले में पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है और पुलिस उसपर लगातार समझौता करने का दबाव बना रही है।
महिला ने इंसाफ की गुहार लगाते हुए कहा है कि अगर उसे इंसाफ न मिला तो वह थाने के बाहर ही आत्मदाह कर लेगी। बहरहाल, इस मामले ने पुलिस की कार्यप्रणाली और महिला सक्ष्तिकरण का दंभ भरने वाली हरियाणा की खट्टर सरकार पर सवालिया निशान लगा दिया है। 

यह भी पढ़ें – Crime : Car सहित बच्चे की Kidnapping, मां को फेंका बाहर 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है