Covid-19 Update

58,460
मामले (हिमाचल)
57,260
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,046,914
मामले (भारत)
113,175,046
मामले (दुनिया)

बेटी की जान पर बन आई तो हाथ में जिंदा सांप पकड़े अस्‍पताल पहुंची महिला   

बेटी की जान पर बन आई तो हाथ में जिंदा सांप पकड़े अस्‍पताल पहुंची महिला   

- Advertisement -

मुंबई। स्‍थानीय अस्‍पताल के डाक्‍टर एक महिला को हाथ में जिंदा जहरीला सांप लिए अस्‍पताल में पहुंचाने पर हैरान हो गए। जब डाक्‍टरों को इसका कारण पता चला तो सब इस महिला की बहादुरी को देख दंग थे। हुआ यूं कि सोमवार को एक महिला के घर में सांप (Snake) घुस आया और उसने महिला की बेटी को डस लिया। बेटी (daughter) पर मौत का साया देख महिला ने जल्‍दी से सांप को पकड़ा। सांप ने उसे भी काट लिया। वह और बेटी उपचार के लिए सांप के साथ अस्‍पताल आ पहुंची। महिला ने डॉक्टर (doctor) को बताया कि उसकी बेटी को इसी सांप ने काटा था। मुंबई (Mumbai) के धारावी डिपो की सोनेरी चाल में रहने वाली सुल्ताना खान (34) ने बताया कि रविवार सुबह 11 बजे के आसपास जब उसकी बेटी तहसीन (18) परिवार के साथ नाश्ता कर रही थी, उसी दौरान एक सांप घर में घुस आया और उसने तहसीन को काट (bite) लिया। यह देखकर सब लोग घबरा गए। उसने फौरन उस सांप को पकड़ा तो उसने उसकी उंगलियों पर भी काट लिया। इसके बाद भी सुल्ताना ने सांप को नहीं छोड़ा और टैक्सी बुलाकर अपनी बेटी के साथ अस्पताल पहुंच गई। इस दौरान वह अपने साथ सांप को भी लेकर आईं। महिला के हाथ में सांप देखकर डॉक्टर भी चौंक गए।

 

यह भी पढ़ें: अब आपका फोन करेगा असली-नकली प्रोडक्‍ड की पहचान, जानें कैसे

 

सुल्ताना ने बताया कि एक बार उसके किसी रिश्तेदार को सांप ने काट लिया था, उस समय उनका इलाज करने डॉक्टर ने कहा था कि अगर सांप की सही पहचान हो जाए तो उसके लिए ऐंटी-वेनम (Anti-venom) चुनने में आसानी होती है।  सुल्ताना कहती हैं कि उसे वह घटना याद थी, इसलिए वह सांप को पकड़कर डॉक्टर के पास ले आई, ताकि सांप को पहचानने और ऐंटी-वेनम इंजेक्शन देने में डॉक्टरों को कोई परेशानी न हो। वहीं, सायना अस्पताल के डीन डॉ. प्रमोद इंगले का कहना कि इसकी कोई जरूरत नहीं थी। डॉक्टर इंगले ने बताया कि भले ही सांप किसी भी किस्म का हो इलाज का तरीका समान होता है। अब एक यूनिवर्सल ऐंटी-स्‍नेक वेनम इंजेक्‍शन आता है, जो सभी तरह के सर्प दंश में असर करता है। उन्होंने कहा कि दोनों मां-बेटी को इंजेक्शन लगा दिया गया है, अब वे ठीक हैं।

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है