Covid-19 Update

58,877
मामले (हिमाचल)
57,386
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

Kullu में बोलीं महिला मजदूर- 250 रुपए में नहीं होता गुजारा साढ़े तीन सौ करो दिहाड़ी

Kullu में बोलीं महिला मजदूर- 250 रुपए में नहीं होता गुजारा साढ़े तीन सौ करो दिहाड़ी

- Advertisement -

कुल्लू। वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर (Forest Minister Govind Singh Thakur) के गृह जिला कुल्लू (Kullu) में वन विभाग की नर्सरी में काम करने वाली महिला मजदूरों ने दिहाड़ी बढ़ाने की मांग की है। नर्सरी में काम करने वाली सैकड़ों महिला मजदूरों को ढाई सौ रुपये दिहाड़ी मिल रही है, लेकिन ढाई सौ रुपये दिहाड़ी पर काम करने से परिवार का खर्चा पूरा करने में दिक्कत हो रही है। महिलाओं ने सरकार व वन विभाग (Forest Department) से मांग की है कि ढाई सौ रुपये से साढ़े तीन सौ रुपये दिहाड़ी की जाए।

ये भी पढ़ें: Jairam Cabinet का अंशकालिक जल वाहकों को तोहफा, लिया यह निर्णय

महिला मजदूर वीना देवी ने बताया कि वह पिछले 2 साल से वन विभाग की नर्सरी में ढाई सौ रुपये दिहाड़ी पर मजदूरी कर रही हैं। इससे घर का खर्चा पूरा नहीं हो रहा है और परिवार का पोलन पोषण करने में परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि सरकार मजदूरी बढ़ाए। दिहाड़ी साढ़े तीन सौ या चार सौ की जाए, इससे महिला मजदूरों को परिवार के पालन पोषण में मदद मिलेग| उन्होंने कहा कि महंगाई के दौर में ढाई सौ रुपये दिहाड़ी से गुजारा नहीं हो रहा है।महिला मजदूर मीरा देवी ने बताया कि ढाई सौ रुपये दिहाड़ी पर काम करने से घर का खर्चा पूरा करना मुश्किल है। महिलाएं आत्मनिर्भर बनने के लिए मेहनत मजदूरी कर रही हैं। कोरोना (Corona) संकट में 3 माह तक कोई काम नहीं हुआ, जिससे परिवार का पालन पोषण में दिक्कत हो रही है। उन्होंने सरकार व वन विभाग से मांग की है कि मजदूरी साढ़े तीन सौ दिहाड़ी दी जाए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है