Covid-19 Update

2,05,061
मामले (हिमाचल)
2,00,704
मरीज ठीक हुए
3,498
मौत
31,396,300
मामले (भारत)
194,663,924
मामले (दुनिया)
×

रक्तदान महादान

रक्तदान महादान

- Advertisement -

विश्व रक्तदान दिवस के लिए 14 जून का दिन तय किया गया है। रक्तदान को बढ़ावा देने के लिए ही विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यह दिवस तय किया। संगठन के मुताबिक भारत में सालाना एक करोड़ यूनिट रक्त की जरूरत है, पर 75 लाख यूनिट ही उपलब्ध हो पाता है। यानी 25 लाख यूनिट के अभाव में  हर साल सैकड़ों मरीज दम तोड़ देते हैं। अगर राजधानी की बात करें तो दिल्ली में  स्वैच्छिक रक्तदाताओं से महज 30 फीसदी ही जुट पाता है। गौरतलब है कि दिल्ली में 53 ब्लड बैंक हैं फिर भी एक लाख यूनिट रक्त की कमी है। इसके मुकाबले  दुनिया के कई सारे ऐसे देश हैं जो इस मामले में भारत को पीछे छोड़ देते हैं।

रक्त से आपका जीवन चलता है पर इसके दान से कितने ही जीवन बचाए जा सकते हैं। रक्तदान को लेकर बहुत सारे लोग भ्रम का शिकार हैं कि इससे शरीर कमजोर होता है। रोग की प्रतिकारक क्षमता कम हो जाती है। अगर एक बार खून दे दिया तो उसकी भरपाई होने में महीनों लग जाते हैं। ये भ्रामक बातें हैं आपको पता होना चाहिए कि शरीर में रक्त बनने की प्रक्रिया हमेशा चलती रहती है और इससे शरीर को कोई नुकसान नहीं होता। कुछ सावधानियां अवश्य अपेक्षित हैं।


कोई भी स्वस्थ व्यक्ति जिसकी उम्र 16 से 60 साल के बीच हो, वह 45 किलो से अधिक वजन का न हो वह रक्तदान कर सकता है। हां, उसे एचआइवी, हेपेटाइटिस बी या हेपेटाइटिस सी जैसी बीमारी न हुई हो यह ध्यान रखना आवश्यक है। एक बार में 350 मिलीग्राम रक्त दिया जाता है  उसी पूर्ति शरीर में 24 घंटे के अंदर हो जाती है।इसके अलावा जो नियमित रक्त दान करता है उसे हृदय संबंधी बीमारियां कम परेशान करती हैं। प्रत्येक स्वस्थ व्यक्ति तीन माह में एक बार रक्तदान कर सकता है।

सभ्यता के विकास की दौड़ में मनुष्य चाहे जितना आगे निकल जाए, पर आज भी वह दूसरे को रक्त देने में हिचकिचाता है। इससे बड़ी विडंबना और क्या हो सकती है कि लोग दुर्घटनाओं के समय में रक्त न मिलने से लोग असमय ही मौत के मुंह में चले जाते हैं। खुशी की बात यह है कि रेडक्रॉस में 85 फीसदी स्वैच्छिक रक्तदान होता है। निश्चित समझिए कि आपका रक्तदान आपको किसी की जान बचाने वाला सुपर हीरो बना देता है इसलिए जब भी किसी को जरूरत हो रक्तदान करने में पीछे न हटें। यही आपका सबसे बड़ा महादान होगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है