Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,427
मामले (भारत)
200,650,253
मामले (दुनिया)
×

World turtle day : बहादुर और मेहनत करने वाला जीव

World turtle day : बहादुर और मेहनत करने वाला जीव

- Advertisement -

Turtle : समुद्र में रहने वाले इन कछुओं को समुद्री कछुआ कहते हैं है, लेकिन ये भी कई तरह के होते हैं। ग्रीन टर्टल, लेदरबैक, हॉक्सबिल, लॉगरहेड, ऑलिव रिडले, केम्प्स रिडले, फ्लैटबैक आदि उनमें प्रमुख हैं। ग्रीन टर्टल यानी हरे कछुए की ही बात करें तो बहुत ही बहादुर और मेहनत करने वाला जीव होता है। पानी में इसकी तैरने की रफ्तार 55-60 किलोमीटर प्रति घंटे होती है। इतना ही नहीं, यह लगातार कई-कई महीने तक यात्रा करता रहता है और कई-कई हजार किलोमीटर तक तैर जाता है।

1996 में एक कछुए की पीठ पर सेटेलाइट ट्रांसमीटर लगाकर पानी में छोड़ दिया गया। वह कछुआ छह हजार किलोमीटर तैरते हुए अफ्रीका से जापान पहुंच गया। इसे समुद्र का सबसे अधिक लंबी यात्रा करने वाला जीव माना जाता है। इतना ही नहीं, यह कई घंटे तक बिना सांस लिए तैर सकता है, क्योंकि इसका खून हमारी तरह गर्म नहीं, बल्कि ठंडा होता है।


अटलांटिक महासागर में मिलता है ग्रीन टर्टल

जब कोई फीमेल कछुआ अंडे देने लायक हो जाती है तो वह सही जगह पर बालू वाली मिट्टी की थोड़ी खुदाई कर उस गड्ढे में अंडे देती है। उसके अंडों की संख्या 70 से लेकर 190 तक हो सकती है। अंडे देकर वह समुद्र में चली जाती है। लगभग दो महीने बाद उन अंडों में से नन्हे कछुए निकलते हैं, जो अंडे से निकलते ही तेजी से पानी की ओर भागते हैं। वहां पहुंचकर ये बच्चे बहुत सुरक्षित हो जाते हैं। समुद्री कछुए सभी समुद्रों में घूमते रहते हैं, लेकिन मुख्य रूप से अटलांटिक महासागर में पाया जाता है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है