Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

योगिनी एकादशी : भगवान विष्णु की पूजा से धुल जाएंगे सारे पाप

योगिनी एकादशी : भगवान विष्णु की पूजा से धुल जाएंगे सारे पाप

- Advertisement -

हिंदू धर्म में योगिनी एकादशी का व्रत महत्वपूर्ण स्थान रखता है। आषाढ़ मास की कृष्ण एकादशी को योगिनी अथवा शयनी एकादशी कहते हैं। इस दिन भगवान विष्णु (Lord Vishnu) की पूजा की जाती है। इस बार योगिनी एकादशी 5 जुलाई को है। इस दिन व्रत करने से सारे पाप धुल जाते हैं। यह इस लोक में भोग और परलोक में मुक्ति देने वाली है। यह तीनों लोकों में प्रसिद्ध है। पुराणों के अनुसार भगवान विष्णु ने मानव कल्याण के लिए अपने शरीर से पुरुषोत्तम मास की एकादशियों को मिलाकर कुल छब्बीस एकादशियों को प्रकट किया। कृष्ण और शुक्ल पक्ष में पड़ने वाली इन एकादशियों के नाम और उनके गुणों के अनुसार ही उनका नामकरण भी किया गया। ये शुभ दिन सभी प्रकार के अपयश और चर्म रोगों से मुक्ति दिलाकर जीवन सफल बनाने में सहायक होता है।


व्रत और पूजा विधि

योगिनी एकादशी के उपवास (Fast) की शुरुआत दशमी तिथि की रात से ही हो जाती है। व्रती को दशमी तिथि की रात से ही तामसिक भोजन का त्याग कर सादा भोजन ग्रहण करना चाहिए और ब्रह्मचर्य का पालन अवश्य करना चाहिए। हो सके तो जमीन पर ही सोएं। वहीं, प्रातःकाल उठकर नित्यकर्म के बाद स्नान करके व्रत का संकल्प लेना चाहिए। इसके बाद कुंभ स्थापना कर उस पर भगवान विष्णु की प्रतिमा रख उनकी पूजा करें और भगवान नारायण की प्रतिमा को स्नानादि करवाकर भोग लगाएं।


यह भी पढ़ें :- मोर पंख दूर करेगा आपकी परेशानियां, जानिए कैसे टालता है अमंगल

 

पुष्प, धूप, दीप आदि से आरती उतारें, ये पूजा स्वयं भी कर सकते हैं और किसी विद्वान ब्राह्मण से भी करवा सकते हैं। ध्यान रहे कि दिन में योगिनी एकादशी की कथा भी जरूर सुननी चाहिए। इस दिन दान कर्म करना भी बहुत कल्याणकारी रहता है। पीपल के वृक्ष (Peepal tree) की पूजा भी इस दिन अवश्य करनी चाहिए। रात्रि में जागरण करना भी अवश्य करना चाहिए। इस दिन दुर्व्यसनों से भी दूर रहना चाहिए और सात्विक जीवन जीना चाहिए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है