Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,973,457
मामले (भारत)
179,548,206
मामले (दुनिया)
×

Kota में फंसे UP के हजारों बच्चों को वापस लाएगी योगी सरकार, भेजीं 300 बसें

Kota में फंसे UP के हजारों बच्चों को वापस लाएगी योगी सरकार, भेजीं 300 बसें

- Advertisement -

कोटा। भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते कहर को देखते हुए पूरे देश को 3 मई तक के लिए लॉकडाउन (Lockdown) पर रखा गया है। इस लॉकडाउन के दौरान कई सारे लोग अपने घरों से दूर फंसे हुए हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश (UP) की योगी आदित्यनाथ सरकार राजस्थान के कोटा (Kota) में फंसे उत्तर प्रदेश निवासी बच्चों की सुध ली है। दरअसल बच्चों को वापस लाने के लिए उनके अभिभावकों की मांग को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कोटा से उत्तर प्रदेश के बच्चों को ले जाने के लिए बसें भेजी हैं। उत्तर प्रदेश के बच्चे को लेकर आज 300 बसें रवाना होंगी।

बता दें कि देशव्यापी लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश और बिहार के हजारों बच्चे कोटा में फंसे हुए हैं। जहां उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। राजस्थान के कोटा में फंसे हुए इन बच्चों ने ट्विटर पर #SendUsBackHome अभियान की शुरुआत की थी। छात्रों की समस्या को देखते हुए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला पिछले 2 दिनों से केंद्र की एजेंसियों से बात करने की कोशिश कर रहे थे, मगर उन्हें भी निराशा हाथ लग रही थी। अब केंद्रीय एजेंसियों के कहने पर कोटा से बच्चों को निकालने की प्रक्रिया शुरू हुई है।


गौरतलब है कि कोटा में उत्तर प्रदेश-बिहार-झारखंड समेत देश के दूसरे राज्यों के हजारों छात्र मेडिकल और इंजीनियरिंग विषयों की कोचिंग के लिए आते हैं। यह सभी छात्र 25 मार्च से फंसे हैं। चिंता की बात ये है कि इस शहर में तेजी से कोरोना का संक्रमण भी बढ़ रहा है। यहां पर अभी 64 कोरोना के मरीज हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है