Covid-19 Update

1,99,467
मामले (हिमाचल)
1,92,819
मरीज ठीक हुए
3,404
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

मोदी जिस गुफा में कर रहे थे ध्यान, उसमें आप भी ठहर सकते हैं 

मोदी जिस गुफा में कर रहे थे ध्यान, उसमें आप भी ठहर सकते हैं 

- Advertisement -

केदारनाथ। पीएम नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड के केदारनाथ में जिस गुफा का ध्यान किया, वह सभी आधुनिक सुविधाओं (Facilities) से लैस है और सिर्फ 990 रुपए प्रतिदिन में उपलब्ध है। पिछले साल केदारनाथ में निर्मित ध्यान गुफा को लोकप्रिय बनाने की रणनीति के तहत, गढ़वाल मंडल विकास निगम (GMVN) द्वारा कीमतों में कमी की गई और कुछ खंडों को गिरा दिया गया।

 


रुद्र ध्यान गुफा का निर्माण तब किया गया जब मोदी ने क्षेत्र में ध्यान गुफाओं की अवधारणा का सुझाव दिया था। यह केदारनाथ मंदिर के लगभग एक किमी ऊपर स्थित है। शुरू में इसकी कीमत 3000 रुपए प्रतिदिन थी जिसे पिछले साल घटाकर 990 रुपए कर दिया गया, क्योंकि पिछले साल बहुत कम खरीदार पाए गए थे। ‘गुफा को पिछले साल अच्छी पर्यटक प्रतिक्रिया नहीं मिली थी, क्योंकि जब तक इसे बुकिंग के लिए खोला गया, तब तक मौसम काफी ठंडा हो चुका था। दूसरा, हमें एहसास हुआ कि टैरिफ बहुत अधिक था। ‘बीएल राणा, जीएमवीएन के महाप्रबंधक (General Manager) ने बताया ।

 

यह भी पढ़ें :-   राज्य चुनाव आयोग ने लाहुल-स्पीति के लिए सरकार से मांगे 3 हेलीकॉप्टर

 

इसके अलावा, पर्यटक को इसे तीन दिनों की न्यूनतम अवधि के लिए बुक करना भी अनिवार्य था। निगम ने इस साल से तीन दिवसीय बुकिंग क्लॉज (clause) को हटा दिया है। बिजली, पीने के पानी की सुविधा और एक वाशरूम वाली इस गुफा का बाहरी हिस्सा पत्थरों से बना है और इसमें लकड़ी का दरवाजा है। निगम अपनी पसंद के समय गुफा में रहने वाले पर्यटक को दिन में दो बार नाश्ता, दोपहर का भोजन, रात का खाना और चाय भी प्रदान करता है। गुफा में स्थापित कॉल बेल के साथ एक परिचर (Attendent) 24X7 उपलब्ध है।

चूंकि गुफा एक दूर स्थान पर स्थित है और ध्यान को प्रोत्साहित करने के लिए है, एक समय में केवल एक व्यक्ति को ध्यान गुफा में जाने की अनुमति है। भले ही गुफा पूरी तरह से अलग-थलग हो, लेकिन गुफा में एक फोन लगाया गया है, जो आपात स्थिति में आगंतुक द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है