Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

आप की हैंडराइटिंग खोलेगी आपके राज

आप की हैंडराइटिंग खोलेगी आपके राज

- Advertisement -

अगर आप किसी व्यक्ति को सही ढंग से पहचानना चाहते हैं तो उससे जुड़ी हर छोटी-बड़ी चीज इसमें आपकी मदद कर सकती है। उस व्यक्ति के चलने उठने बैठने का तरीका आप को बहुत कुछ बता देता है। व्यक्ति के हर काम में उसके व्यक्तित्व की झलक देखने को मिलती है। बर्थमार्क व राशि से तो व्यक्ति के स्वभाव का पता चलता ही है साथ में लिखावट यानी हैंडराइटिंग भी इस में अहम भूमिका निभाती हैं। हस्तलेख विशेषज्ञों की मानें तो हस्तलिपि किसी भी शख्स के व्यक्तित्व का आईना होते हैं। हर किसी के लिखने का तरीका अलग होता है, जिससे उस व्यक्ति के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती है। जानते हैं आप किसी भी व्यक्त‍ि की लिखावट का अध्ययन करके उसके व्यक्तित्व को कैसे जान सकते हैं …
लिखते समय अक्षरों के बीच में अधिक स्पेस रखने वाले लोग अपने व्यक्तित्व स्वतंत्रता को लेकर काफी गंभीर होते हैं। अपने भविष्य को लेकर हमेशा काम करते हैं, साथ ही अपने परिवार की खुशियों को लेकर काफी सोचते हैं। वहीं जो लिखने में कम स्पेस रखने वाले लोग होते हैं, उनमें दुसरों की नकल करने की प्रवृति अधिक होती है। यह दूसरों को देख-देखकर आगे बढ़ते हैं।
जो व्यक्ति हस्ताक्षर करते समय थोड़ा भार देकर लिखता है, जिससे उसकी छाप एक पेपर से दूसरे पेपर पर पड़ जाती है। साथ ही उसको बड़े एवं गोलाई में लिखता हो और लिखते समय सीधी बाजुओं को झुकाता हो तो ऐसे व्यक्ति हर किसी के साथ मिल-जुलकर काम करते हैं। ऐसे व्यक्ति हर किसी को साथ लेकर चलने वाले होते हैं। इनसे किसी का दुख देखा नहीं जाता, उनकी मदद करने के लिए खुद आगे बढ़ते हैं।
ऐसे व्यक्ति अपने हस्ताक्षर को ना हल्के हाथ से और ना ही अधिक जोर देकर लिखते हैं। हस्ताक्षर बिल्कुल सीधा और साफ होकर लिखते हैं। ऐसे व्यक्ति का सामाजिक जीवन सामान्य होता है।
जो व्यक्ति हल्के हाथ से हस्ताक्षर करता हो, साथ ही एक पेपर से दूसरे पेपर पर कोई छाप ना पड़े। हस्ताक्षर छोटा और बिल्कुल साफ हो, जिसकी लिखावट उल्टे बाजू से थोड़ी झुकती हुई हो तो ऐसे व्यक्ति का सामाजिक जीवन बचपन में उपेक्षा का शिकार होने के कारण हीन भावना से ग्रस्त होकर अन्तर्मुखी बन जाते हैं। इनको समाज से ज्यादा लगाव नहीं होता है, इनको अपने में ही रहना ज्यादा पसंद है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है