Covid-19 Update

58,460
मामले (हिमाचल)
57,260
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,046,914
मामले (भारत)
113,175,046
मामले (दुनिया)

मरने के 16 महीने बाद घर लौट आया युवक, खुशी में बदला मातम का माहौल

मरने के 16 महीने बाद घर लौट आया युवक, खुशी में बदला मातम का माहौल

- Advertisement -

नई दिल्ली। मरने के बाद कोई लौटकर नहीं आता। लेकिन एक चुक मरने के 16 महीने बाद सकुशल लौटकर घर आ गया। युवक के आने से घर में खुशी का माहौल है। लोग युवक को देखने के लिए दूर- दूर से आ रहे हैं। एक शब्द में कहें तो वह पूरे जिले में चर्चा का विषय बन गया है। युवक का नाम योगेश बताया जा रहा है। फिलहाल, वह ज्यादा नहीं बोल रहा है।

मामला यूपी के संभल जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर बसे सेमला गांव का है। सेमला के रामनिवास के तीन संतानें थीं। एक लड़का और दो बेटी। लड़के का नाम योगेश है। उनके घर में सब ठीक-ठाक चल रहा था। लेकिन साल 2017 में रामनिवास पर दुख का पहाड़ टूट गया। उनके एकलौते बेटे योगेश को सांप ने डस लिया।

संपरे ने जड़ी-बूटी की मदद से बचाई जान

दुआ कुछ काम नहीं आया तो अंत में उसने बेटे के शव को नरोरा गंगा में प्रवाहित कर दिया गया। लेकिन इसके बावजूद भी रामनिवास ये मानने को तैयार नहीं थे कि उनके बेटे की मौत हो गई है। ऐसे में देखते ही देखते 16 महीने बीत गए। इसी दौरान रामनिवास को चंदोसी के एक संपेरे के पास योगेश के होने की सूचना मिली। इसके बाद उसने संपेरों से बातचीत की। फिर तीन संपेरे युवक को लेकर रामनिवास के घर पहुंच गए। इसके बाद पूरे गांव में खुशी की लहर दौर गई। युवक को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आने लगे। बुजुर्ग संपेरे ने बताया वउनके पास जंगल की जड़ी- बूटी की दवा है। जिससे वह इलाज कर सर्पदंश से मृत घोषित लोगों को जिन्दा कर देता है। वहीं, रामनिवास ने भी घर आए युवक को अपने पुत्र के रूप में पहचानने का दावा किया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है