Covid-19 Update

2,22,638
मामले (हिमाचल)
2,17,405
मरीज ठीक हुए
3,720
मौत
34,188,229
मामले (भारत)
244,354,428
मामले (दुनिया)

दिल्ली-चंडीगढ़ स्थित Himachal Bhawan में नियंत्रण कक्ष स्थापित, भोजन-ठहरने की सुविधा के लिए प्रयास

दिल्ली-चंडीगढ़ स्थित Himachal Bhawan में नियंत्रण कक्ष स्थापित, भोजन-ठहरने की सुविधा के लिए प्रयास

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा है कि दिल्ली और चंडीगढ़ (Delhi-Chandigarh) में फंसे हिमाचल वासियों की सुविधा के लिए दिल्ली और चंडीगढ़ स्थित हिमाचल भवनों (Himachal Bhawan) में नियंत्रण कक्ष (Control room) स्थापित किए गए हैं। हिमाचल भवनों में इन लोगों को भोजन और ठहरने की सुविधा प्रदान करने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे। सीएम ने प्रदेश के भीतर और अन्य प्रदेशों में फंसे हिमाचल वासियों से आग्रह किया है कि वे जहां हैं, वहीं बने रहें, क्योंकि प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस के दृष्टिगत अन्तरराज्यीय और राज्य के अन्दर वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा रखी है।

जयराम ने सभी जिलों के डीसी के साथ वीडियो काॅफ्रेंस के माध्यम से बातचीत के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में एक जिले से दूसरे जिले और राज्य के बाहर लोगों की गतिविधियों पर नजर रखी जाए। जो लोग पहले ही प्रदेश में प्रवेश कर चुके हैं उन्हें सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थापित क्वारंटाइन केन्द्रों में रखा जाए। उन्होंने डीसी को निर्देश दिए कि जो लोग विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए हैं उनके लिए भोजन और ठहरने की उचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि फंसे हुए लोगों की सुविधा के लिए स्कूलों और डाइट भवनों में बनाए गए कैम्पों में स्वच्छता का विशेष रूप से ध्यान रखा जाए।

जय राम ठाकुर ने सभी जिलों के डीसी को निर्देश दिए कि वे फंसे हुए लोगों को उसी स्थान पर बने रहने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार इन लोगों की हर संभव सहायता करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के बाहर से और प्रदेश के एक जिले से दूसरे जिले में आए लोगों की पहचान करने के कार्य में पंचायती राज संस्थानों की सहायता ली जाए। वहीं,मुख्य सचिव अनिल कुमार खाची ने डीसी से कहा कि लोगों के एक जिले से दूसरे जिले और बाहरी राज्यों से निर्गमन पर पूर्ण रोक लगाई जाए। इसके अतिरिक्त श्रमिकों और अन्य राज्यों के कर्मियों को भी प्रदेश के बाहर जाने के लिए नहीं कहा जाए और उन्हें शिविरों में ही रखा जाए। पुलिस महानिदेशक एसआर मरडी ने कहा कि किसी भी अन्य राज्य से लोगों को लेकर आने वाले वाहनों को हिमाचल प्रदेश में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है