Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

कीर्ति चक्र लौटाने राजभवन पहुंचा शहीद का परिवार, वादाखिलाफी का आरोप

18 साल के बाद भी पूरे नहीं हो सके वादे

कीर्ति चक्र लौटाने राजभवन पहुंचा शहीद का परिवार, वादाखिलाफी का आरोप

- Advertisement -

शिमला। शहीद के नाम की घोषणाएं 18 साल बाद भी पूरी ना होने पर शहीद के परिवार (Family of Martyr) वालों ने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है। शहीद का परिवार आज शहीद को मिले कीर्ति चक्र (Kirti Chakra) को लौटाने के लिए शिमला राजभवन पहुंचा। कांगड़ा जिला के जयसिंहपुर (Jaisinghpur) के जवान अनिल चौहान 2002 में असम में शहीद हुए थे। उनकी शहादत पर उन्हें कीर्ति चक्र से नवाजा गया था। उसी वक़्त तत्कालीन सरकार ने शहीद के नाम पर स्मारक बनाने व स्कूल का नाम रखने की घोषणा की थी, लेकिन 18 साल के बाद भी सरकार ने दोनों वादे पूरे नहीं किए हैं। नाराज शहीद अनिल का परिवार आज कीर्ति चक्र लौटने राजभवन पहुंच गया। शहीद की मां राजकुमारी का कहना है कि 23 साल के बेटे ने 2002 में असम में अपनी शहादत दी थी। उस वक़्त वीरभद्र सरकार ने अनिल के नाम पर स्कूल का नाम रखने व स्मारक बनाने का वादा किया था, जो आज तक पूरा नहीं हुआ।


यह भी पढ़ें: #Himachal का जवान पश्चिम बंगाल में शहीद, राजकीय सम्मान से किया अंतिम संस्कार


18 साल तक वादे पूरे ना करना शहीदों का अपमान है। इसलिए वह कीर्ति चक्र लौटने आई हैं। उधर, परिवार को लेकर राजभवन पहुंचे सामाजिक कार्यकर्ता संजय शर्मा ने बताया कि यह एक शहीद परिवार की बात नहीं है। प्रदेश में ऐसे कितने शहीद हैं, जिनके साथ सरकार वादाखिलाफी कर रही है। इसलिए नाराजगी है, यही वजह है कि इस परिवार को कीर्ति चक्र लौटने राजभवन आना पड़ा है। इसी बीच सीएम जयराम ठाकुर भी राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंचे थे। शहीद के परिवार को देखकर उन्होंने गाड़ी रोकी व शहीद परिवार को आश्वासन दिया। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा कि कहां कमी रही है बैठकर बात कर समस्या हल की जाएगी। उन्होंने कहा कि रिकॉर्ड निकाला जाएगा।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है