Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

आठ दिसंबर को #Bharat_Bandh करेंगे किसान, कल फूंकेंगे #PM_Modi का पुतला

किसान नेता बोले - कोरपोरेट फ़ार्मिंग किसानों को मंज़ूर नहीं

आठ दिसंबर को #Bharat_Bandh करेंगे किसान, कल फूंकेंगे #PM_Modi का पुतला

- Advertisement -

नई दिल्ली। कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान अब अपना आंदोलन तेज करने की तैयारी में हैं। किसानों ने आठ दिसंबर (8 December) को भारत बंद का ऐलान किया है। किसानों ने अब केंद्र सरकार खिलाफ भी अपना रुख तेज कर लिया है। किसानों ने कल यानी शनिवार को देशभर में पीएम नरेंद्र मोदी का पुतला फूंकने का भी ऐलान किया। आज सिंधु बॉर्डर पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आए किसानों ने कहा कि एमएसपी पर सरकार से बात चल रही है, लेकिन हम तीनों कानून वापस करवा कर रहेंगे। किसान नेता ने कहा, ”हम आंदोलन और तेज करेंगे। आठ दिसंबर को भारत बंद (Bharat Bandh) रहेगा, सभी टोल प्लाजा भी बंद करवाएंगे। इसके साथ ही दिल्ली आने वाले सभी रास्ते भी बंद किए जाएंगे।


यह भी पढ़ें: #FarmersProtest : बादल ने लौटाया #Padma_Vibhushan, बोले – कुर्बान करने के लिए और कुछ नहीं

आंदोलन कर रहे किसान नेताओं ने कहा कि आज तमिलनाडु में और कर्नाटक में हमारा प्रदर्शन था। अब इन किसानों (Farmers) को भी दिल्ली आने को बोल दिया है। उन्होंने कहा कि पूरे देश के किसानों को दिल्ली आने का आह्वान किया। लड़ाई आर-पार की होगी। पीछे हटने का सवाल ही नहीं उठता। किसान नेता ने कहा कि कोरपोरेट फ़ार्मिंग किसानों को मंज़ूर नहीं। हम डेडलाइन नहीं दे रहे हम सरकार को बता रहे हैं स्थिति ऐसे ही रही तो हर राज्य से और जत्थे दिल्ली लाए जाएंगे। हम विश्वास नहीं रखते, लेकिन लोगों में सरकार के प्रति ग़ुस्सा बहुत है। किसान नेताओं ने कहा, “कर्नाटक में 7 दिसम्बर से 15 दिसम्बर तक विधानसभा के बाहर किसानों का धरना होगा। बंगाल में रास्ता रोको आंदोलन होगा। किसी सरकार में हिम्मत नहीं कि इस आंदोलन के आगे टिक जाए ।”


सरकार और किसानों के बीच गुरुवार को करीब सात घंटे तक बैठक चली। शनिवार को एक बार फिर बैठक होगी। सरकार के साथ बैठक के बाद किसानों ने कहा था कि हमारा आंदोलन जारी रहेगा हम सरकार के प्रस्ताव से सहमत नहीं हैं। वहीं बैठक के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि किसानों के साथ फिर से एक बार फिर बैठक होगी ताकि और ज़्यादा सफ़ाई के साथ बैठे। किसानों ने कहा MSP पर पूरे देश में एक ठोस क़ानून हो अगर MSP से नीचे कोई ख़रीदे तो उस पर क़ानूनी कार्यवाही का कड़ा प्रावधान हो।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है