Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

आउटसोर्स पर ना भरे जाएं स्टाफ नर्सों के पद, स्वास्थ्य मंत्री को ज्ञापन सौंप उठाई मांग

हिमाचल प्रदेश प्रशिक्षित बेरोजगार नर्स एसोसिएशन ने डॉ. राजीव सैजल से मुलाकात कर रखी अपनी समस्याएं

आउटसोर्स पर ना भरे जाएं स्टाफ नर्सों के पद, स्वास्थ्य मंत्री को ज्ञापन सौंप उठाई मांग

- Advertisement -

ऊना। हिमाचल प्रदेश प्रशिक्षित बेरोजगार नर्स एसोसिएशन ने भविष्य में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) में भरे जाने वाले स्टाफ नर्सों के पदों को आउटसोर्स आधार पर ना भरने की मांग उठाई है। शनिवार को एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल ने स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल (Health Minister Dr. Rajiv Saizal) से मुलाकात कर अपनी समस्याओं के संदर्भ में एक ज्ञापन सौंपा। संघ के पदाधिकारियों और सदस्यों ने स्वास्थ्य मंत्री से मांग की है कि भविष्य में स्वास्थ्य विभाग में भरे जाने वाले स्टाफ नर्सों के पदों को आउटसोर्स आधार (Outsourced Basis) पर बिल्कुल भी ना भरा जाए। स्वास्थ्य मंत्री को दिए ज्ञापन पत्र में संघ ने कहा है कि आज प्रदेश भर में कई मेडिकल कॉलेज काम कर रहे है। लेकिन, बहुत ही खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि इनमें स्टाफ नर्सेज (Staff Nurses) के पदों को आउट सोर्स आधार पर भरा जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्टाफ नर्स के पद पर सेवाएं देने वाली महिलाएं अस्पतालों में रोगियों का भी ध्यान अपने परिवार के सदस्यों की तरह रखती हैं। लेकिन, इतने कर्मठ होने के बावजूद इन कर्मचारियों को आउट सोर्स आधार पर भर्ती करना समझ से परे है।


यह भी पढ़ें: #Himachal में यहां बैच आधार पर भरे जाएंगे स्टाफ नर्स के 38 पद, करना होगा ऐसा

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2019 से स्टाफ नर्सों के पद बैच वाइज आधार पर भरने की प्रक्रिया शुरू की गई, हालांकि प्रदेश सरकार (State Govt) की यह प्रक्रिया काफी लोकहित में मानी जा रही हैए लेकिन स्टाफ नर्सों के पदों को आउटसोर्स के आधार पर भरे जाने से बैच वाइज आधार का कोई औचित्य नहीं रह जाता। उन्होंने मांग की है कि इन पदों को बैच वाइज आधार पर भरा जाए, हालांकि इसमें आउटसोर्स को कतई जगह ना दी जाए। ताकि उन्हें ओवर एज होने से पहले ही रोजगार मिल सके। उन्होंने यह भी मांग की है कि स्टाफ नर्सेज के पदों को बैच वाइज आधार पर भरे जाने के दौरान पदों की संख्या बढ़ाई जाए, जो मैच वर्तमान में चल रहा है उस बैच की हजारों प्रशिक्षित बेरोजगार नर्सें हैं जो शिमला (Shimla) में अपना पंजीकरण करवा चुकी हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने उनकी मांगों को ध्यानपूर्वक सुना और जल्द उनका समाधान करने का आश्वासन दिया।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है