×

‘जिनकी उपस्थिति की ऑफिस में आवश्यकता नहीं वे अब स्थाई रूप से Work From Home करें’

कंपनी माजा, थम्स-अप, स्प्राइट और कोका कोला के दूसरे ड्रिंक्स तैयार करती है

‘जिनकी उपस्थिति की ऑफिस में आवश्यकता नहीं वे अब स्थाई रूप से Work From Home करें’

- Advertisement -

नई दिल्ली। दुनिया भर में जारी कोरोना वायरस के कहर के बीच वर्क फ्रॉम होम का चलन काफी बढ़ गया है। इस सब के बीच भारत में काम करने वाली एक कंपनी ने अपने कर्मचारियों को स्थाई रूप से वर्क फ्रॉम होम का विकल्प दिया है। बतौर रिपोर्ट्स, बेंगलुरु स्थित पेय पदार्थ बनाने वाली ‘हिंदुस्तान कोका-कोला बेवरेजेज़’ (Hindustan Coca-Cola Beverages) ने नई नीति के तहत ऐसे कर्मचारियों को स्थाई रूप से वर्क फ्रॉम होम (Work From Home) का विकल्प दिया है जिनकी उपस्थिति की ऑफिस में आवश्यकता नहीं है। बकौल कंपनी, यह नीति महामारी के बाद भी जारी रहेगी और कर्मचारियों को इंटरनेट पर होने वाले खर्च के लिए आर्थिक मदद भी दी जाएगी।


घर से काम करने पर इन सुविधाओं के लिए भी खर्च करेगी कंपनी

कंपनी के कर्मचारियों को इस बात का भी विकल्प दिया गया है कि वे इस सुविधा का इस्तेमाल करना चाहते हैं या नहीं। बता दें कि यह कंपनी माजा, थम्स-अप, स्प्राइट और कोका कोला के दूसरे ड्रिंक्स तैयार करती है। पूरे देश में इसकी 15 फैक्ट्रियां हैं। एचसीसीबी ने एक बयान में कहा गया है कि नई पॉलिसी में कर्मचारियों की सुरक्षा, उनकी भावनात्मक और शारीरिक भलाई के साथ-साथ वर्क फ्रॉम स्पेस को उपयुक्त बनाने के लिए सहायता सहायता की पेशकश की गई है।

यह भी पढ़ें: भारत के इस UT में Covid-19 के शून्य मामले; 11,000 छात्रों ने स्कूल जाना किया शुरू

बयान में कहा गया है कि नई पॉलिसी कंपनी के मूल सिद्धांत केयर और फ्लेक्सिब्लिटी के आधार पर तैयार की गई है ताकि यह महामारी के बाद के समय का सामना कर सके। कंपनी की यह नई पॉलिसी कर्मचारियों और उन पर निर्भर लोगों को सुरक्षा का अनुभव प्रदान करती है। यह आइडिया एक सहज अनुभव प्रदान करता है जो कंपनी के साथ-साथ कर्मचारियों के लिए भी लाभदायक है। बयान के मुताबिक, कर्मचारी टेबल, हेडफोन, लैंप, वेबकैम, बाहरी माइक्रोफोन, कॉफी मग के लिए भी मौद्रिक सहायता ले सकते हैं। इसके अलावा यूपीएस इंस्टालेशन को लेकर भी सुविधा दी जा रही है। कंपनी अपने कर्मचारियों को देने वाली इंश्योरेंस पॉलिसी में भी बदलाव किया है। अब इसमें पैरंट और इन-लॉज को भी शामिल किया गया है। इसके अलावा टॉप-अप की भी सुविधा दी गई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है