Covid-19 Update

1,98,010
मामले (हिमाचल)
1,89,469
मरीज ठीक हुए
3,358
मौत
29,359,155
मामले (भारत)
176,047,505
मामले (दुनिया)
×

ऑनलाइन पास की सुविधा मिलते ही हिमाचल के पंजाब से सटे बॉर्डर पर Vehicles की लंबी कतारें

ऑनलाइन पास की सुविधा मिलते ही हिमाचल के पंजाब से सटे बॉर्डर पर Vehicles की लंबी कतारें

- Advertisement -

ऊना। कोरोना वायरस के चलते चल रहे लॉकडाउन के बीच दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को ऑनलाइन पास की सुविधा मिलते ही हिमाचल के पंजाब से सटे बॉर्डर पर गाड़ियों (Vehicles) की लंबी कतारें लग गई हैं। दरअसल प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न राज्यों में फंसे हिमाचलियों को घर वापसी के लिए पास जारी किए जाने के बाद हिमाचल के मैहतपुर प्रवेश द्वार पर घर वापसी के लिए लोगों का खूब जमावड़ा देखने को मिला। ऊना, कांगड़ा, चंबा और हमीरपुर जाने के लिए मैहतपुर प्रवेश द्वार से होकर ही प्रदेश की सीमा में एंट्री की जा सकती है। मैहतपुर प्रवेश द्वार पर उमड़ी भीड़ को कंट्रोल करने के लिए खुद डीसी ऊना को प्रशासनिक अमले के साथ उतरना पड़ा और डीसी ऊना के मोर्चा संभालते ही मैहतपुर बॉर्डर पर व्यवस्थाएं सुचारू हो पाई।


पास लेकर आ रहे हिमाचलियों की भीड़ सोमवार सुबह से ही बैरियर के समीप जुटनी शुरू हो गई। करीब डेढ़ किलोमीटर तक वाहनों की लंबी लाइनें लग गईं, जिसके चलते काफी जाम रहा। हिमाचल व पंजाब पुलिस की मदद से सभी की स्क्रीनिंग करने के बाद हिमाचल में प्रवेश दिया गया। हिमाचल के प्रवेश करते हुए लोगों के ऊना, कांगड़ा, हमीरपुर, चंबा के लोगों चेहरे पर खुशी साफ देखी जा सकती थी। हालांकि जिला ऊना के अन्य बॉर्डर पर ऐसी स्थिति देखने को नहीं मिली, लेकिन मैहतपुर के प्रवेश द्धार पर सुबह से की काफी भीड़ उमड़ी। भीड़ को देखते हुए डीसी ऊना संदीप कुमार प्रशासनिक अमले के साथ मौके पर पहुंचे और खुद मोर्चा संभालते हुए लोगों को हिमाचल में प्रवेश दिलवाया।

डीसी द्वारा व्यवस्था संभालने के करीब 30 मिनट बाद भी सारा जाम खुल गया। हिमाचल में पास लेकर आने वाले विभिन्न स्थानों के लोगों को 28 दिन के लिए होम क्वारंटाइन के निर्देश दिए जा रहे हैं। जिला ऊना के निवासियों को बॉर्डर पर स्क्रीनिंग की गई। वहीं, पुलिस ने 149 सीआरपीसी का नोटिस देकर होम क्वांरटाइन के निर्देश दिए, जबकि अन्य जिलों के निवासियों को उनकी सीमाओ पर ये निर्देश मिलेंगे। जबकि बिना पास आने वालों को जिला में बने हुए क्वारंटाइन सेंटर में 28 दिन के लिए रखा जाएगा, इसके लिए बकायदा मैहतपुर में परिवहन निगम की बसें खड़ी गई हैं, ताकि ऐसे लोगों को क्वारंटाइन सेंटर पहुंचाया जा सके। डीसी ऊना संदीप कुमार ने बताया कि पास मान्य होने के चलते मैहतपुर बॉर्डर पर भीड़ जुटी थी, लेकिन कुछ देर भी ही सारी स्थिति सामान्य हो गई थी।

उधर, दूसरी तरफ गगरेट के आशा देवी बॉर्डर पर सैकड़ों गाड़ियां हिमाचल प्रदेश में प्रवेश करने के लिए कतार में लगी हुई हैं। हिमाचल पुलिस द्वारा उनके नाम व पते लिखकर उन्हें प्रवेश की अनुमति दी जा रही है। आज भी सुबह से लंबी कतारें लगी हैं तो अनुमान लगाया जा रहा है कि लगभग 1000 गाड़ी आज प्रवेश कर सकती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है