×

Atal Tunnel पर पक्ष-विपक्ष में मची श्रेय लेने की होड़, Mukesh और वीरेंद्र ने जमकर चलाए शब्द बाण

मुकेश अग्निहोत्री ने अटल टनल को बताया कांग्रेस की देन, वीरेंद्र कंवर बोले कांग्रेस सिर्फ सपने देखती है

Atal Tunnel पर पक्ष-विपक्ष में मची श्रेय लेने की होड़, Mukesh और वीरेंद्र ने जमकर चलाए शब्द बाण

- Advertisement -

ऊना। पीएम नरेंद्र मोदी ने अटल टनल (Atal Tunnel) को जनता को समर्पित कर दिया है, लेकिन अटल टनल पर राजनीति अभी भी जारी है। प्रदेश की दो बड़ी पार्टियां बीजेपी और कांग्रेस (BJP & Congress) में अटल टनल का श्रेय लेने की होड़ मची हुई है। इसी बीच एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का दौर भी जारी है। शुक्रवार को जहां मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri ने अटल टनल को कांग्रेस की देन बताया। वहीं, बीजेपी के कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कांग्रेस को हर काम का श्रेय लेने की पुरानी आदत बताया है। शुक्रवार को अपने जन्मदिन के अवसर पर कांगड़ गांव स्थित बाबा नैणा के दरबार में पहुंचे नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने अटल टनल को लेकर सरकार पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि यह टनल कांग्रेस की देन है। मुकेश ने कहा कि साल 2010 में इस सुरंग की आधारशिला यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने रखी थी। जबकि तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह ने इसके लिए 1350 करोड़ रुपये का बजट भी उपलब्ध कराया था। मुकेश ने कहा कि पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने केवल रोहतांग के लिए जाने वाली सड़क का शिलान्यास किया था।


यह भी पढ़ें: Mukesh का आरोपः रोहतांग टनल को लेकर झूठ बोल रहे जयराम ठाकुर

 

 

यह भी पढ़ें: मुकेश का वार: बढ़ते कोरोना पर नियंत्रण पाने में सरकार फेल- अब जनता से मांग रही राय

वहीं, कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर (Agriculture Minister Virender Kanwar) ने अटल टनल को लेकर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री और कांग्रेस के अन्य नेताओं द्वारा की जा रही बयानबाजी पर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को हर काम का श्रेय लेने की पुरानी आदत है। जबकि कांग्रेसी अधिकतर कामों के लिए सिर्फ सपने ही देखते आए हैं। लेकिन मोदी सरकार  (Modi Govt) सपने नहीं देखती, धरातल पर काम करके दिखाती है। कृषि मंत्री ने कहा कि कांग्रेस के नेता अटल टनल को कभी जवाहरलाल नेहरू का सपना बता रहे हैं तो कभी इंदिरा गांधी के सपनों में यह टनल आती रही है, लेकिन सच्चाई यह है कि यह टनल कांग्रेसियों के केवल सपनों में ही रही है इसे धरातल पर उतारने का काम पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेई ने किया था। 2010 में सोनिया गांधी के लोकार्पण से लेकर 2014 तक टनल का कितना काम हुआए उसके बाद मोदी सरकार के कार्यकाल में ना सिर्फ यह टनल पूरी तरह बनकर तैयार हुई, बल्कि इसे जनता को भी समर्पित किया गया है। कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने आज अपने ऊना दौरे के दौरान सर्किट हाउस ऊना में जनता की समस्यायों को सुना और अधिकतर समस्यायों का मौका पर ही निपटारा भी कर दिया।

 

मुकेश ने कोरोना पर बीजेपी सरकार पर बोला हमला

मुकेश अग्निहोत्री ने कोरोना को लेकर भी प्रदेश सरकार (State Govt) पर जमकर हमले बोले हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना से निपटने का दावा करने वाली केंद्र और प्रदेश की सरकारें पूरी तरह से विफल रही हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कोविड-19 से मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रदेश सरकार को मिले 500 वेंटिलेटर अभी भी डिब्बों में बंद पड़े हैं। सरकार के पास इन वेंटीलेटरों का संचालन करने वाला कोई विशेषज्ञ ही नहीं है। हिमाचल प्रदेश में कोरोना (Corona) की शुरुआत से ही स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की अफसरशाही ने अपनी जेबें भरनी शुरू कर दी थी। महामारी के दौरान स्वास्थ्य विभाग में हुए घोटाले किसी से छिपे नहीं हैं। फिर भी सरकार कोरोनाकाल में बेहतर कार्य करने के दावे कर खुद को हंसी का पात्र बना रही है।

यह भी पढ़ें: मुकेश अग्निहोत्री बोले, BJP कृषि बिल की आड़ में किसानों को लूटने का कर रही काम

कृषि बिल पर घेरी जयराम सरकार

नेता प्रतिपक्ष ने कृषि बिल (Agricultural bill) को लेकर केंद्र की मोदी और प्रदेश की जयराम सरकारों को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने बीजेपी द्वारा कांग्रेस पर बिचौलियों के हितैषी होने के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस बिचौलियों के हितैषी नहीं हैए बल्कि केंद्र सरकार देश के पूंजी पतियों की सबसे बड़ी हितकारी निकली है। पूंजीपति वर्ग के हितों की रक्षा के लिए कृषि बिल के दम पर किसानों की बलि दी जा रही है। केंद्र सरकार ने अब कृषि क्षेत्र में भी कॉर्पोरेट जगत को सीधा लाभ देने का प्लान तैयार किया है। जिसके तहत कृषि बिल को लाया गया है। वहीं देश के राष्ट्रपति ने भी बिना कोई विचार किए जल्दबाजी में इस पर मुहर लगा दी है। उन्होंने कहा कि किसानों के साथ धक्के शाही नहीं होने दी जाएगी। कांग्रेस हर स्तर पर कृषि बिल के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेगी।

यह भी पढ़ें: आरोपः स्वास्थ्य विभाग ने 15750 में खरीदा 9100 रुपये का Oxygen Gas Cylinder

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है