Covid-19 Update

2, 85, 020
मामले (हिमाचल)
2, 80, 839
मरीज ठीक हुए
4117*
मौत
43,144,260
मामले (भारत)
529,736,539
मामले (दुनिया)

इन लोगों को सरेंडर करना होगा राशन कार्ड, नहीं तो होगी कानूनी कार्रवाई

फ्री में लाभ उठा है रहे हैं कुछ लोग

इन लोगों को सरेंडर करना होगा राशन कार्ड, नहीं तो होगी कानूनी कार्रवाई

- Advertisement -

राशन कार्ड धारकों के लिए बड़ी खबर है। दरअसल, सरकार की तरफ से कुछ शर्तों के तहत अब राशन कार्ड (Ration Card) सरेंडर करने का नया नियम बनाया है। इन नियमों की अनदेखी करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई हो सकती है। हालांकि, सरकार की तरफ से शुरू की गई मुफ्त राशन की व्यवस्था गरीब परिवारों के लिए अभी तक लागू है।

यह भी पढ़ें- मैसेज भेजने के लिए लिखने की नहीं पड़ेगी जरूरत, बस करना होगा ये काम

बता दें कि कोरोना महामारी (Covid-19) के दौरान सरकार ने गरीब परिवारों को मुफ्त राशन देना शुरू किया था। वहीं, फ्री राशन का लाभ कई ऐसे राशन कार्ड धारक भी उठा रहें हैं, जो कि इसके योग्य नहीं है। जिसके चलते योजना के पात्र कई कार्डधारकों को इसका फायदा नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में सरकार की तरफ से लोगों से अपील की है कि अपात्र लोग अपना राशन कार्ड सरेंडर कर दें नहीं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है। इतना ही नहीं ऐसे व्यक्ति के परिवार के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी और वह जब से राशन ले रहा है, तब से राशन की वसूली भी की जाएगी।

ये है नया नियम

नए नियम के अनुसार, अगर किसी व्यक्ति के पास 100 वर्ग मीटर से ज्यादा का प्लाट, फ्लैट या मकान, गांव में दो लाख और शहर में तीन लाख सालाना से अधिक की पारिवारिक आय, चार पहिया गाड़ी या ट्रैक्टर है तो ऐसे लोगों को अपना राशन कार्ड सरेंडर करना होगा। ऐसे लोग तहसील और डीएसओ कार्यालय में जाकर अपना राशन कार्ड सरेंडर करवा सकते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है