×

अब Cash और Cards रखने की जरूरत नहीं, रिस्ट बैंड और की-चेन से करो कहीं भी पेमेंट

आ गया Contactless Wearable Payment, SBI और Axis Bank ने शुरू की है सेवा

अब Cash और Cards रखने की जरूरत नहीं, रिस्ट बैंड और की-चेन से करो कहीं भी पेमेंट

- Advertisement -

ऐसा कई बार होता है जब आप घर से बाहर निकलते हुए अपना कार्ड घर पर ही भूल जाते हैं और आपके पास कैश भी नहीं होता। ऐसा टाइम पर आप कुछ चीज खरीदना भी चाहें तो नहीं खरीद सकते हैं। लेकिन अब आपकी ये परेशानी खत्म होने वाली है। अब आप अपने कार्ड को वॉलेट से निकाले बिना और बिना किसी संपर्क के कहीं भी लेनदेन कर पाएंगे। अब पेट्रोल भरवाने या किसी स्टोर से समान खरीदने के लिए आप सिर्फ एक रिस्ट बैंड की मदद से पेमेंट कर सकते हैं। कोरोना काल में और इसके बाद भी Contactless और Digital Payment का खूब इस्तेमाल होने लगा है। अभी तक लोग सिर्फ टच एंड पे और यूपीआई पेमेंट का ही इस्तेमाल करते रहे हैं, लेकिन अब रिस्ट बैंड की मदद से पेमेंट करने की तकनीक आ गई है। इन्हें वियरेबल पेमेंट डिवाइस भी कहा जाता है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और एक्सिस बैंक ने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए वियरेबल पेमेंट की शुरुआत की है। ये दोनों बैंक ऐसी घड़ियां उपलब्ध करा रहे हैं जिन्हें मशीन के पास लाते ही पेमेंट हो जाती है। इस वीडियो रिपोर्ट में हम आपको इस टेक्नोलॉजी के बारे में विस्तार से जानकारी देते हैं ….


ग्राहकों के बैंक खाते से लिंक्ड रहेगा ये डिवाइस

ये Wearable Device ग्राहकों के बैंक खाते से सीधा लिंक्ड रहेगा और यह एक डेबिट कार्ड की तरह कार्य करेगा। इसके जरिए ग्राहक किसी भी ऐसे मर्चेंट के यहां शॉपिग कर पेमेंट कर सकते हैं जो कांटैक्टलेस ट्रांजैक्शन स्वीकार करते हों। Wear N Pay डिवाइसेज को फोन बैंकिंग या एक्सिस बैंक के किसी भी ब्रांच से खरीद सकते हैं। जो लोग एक्सिस बैंक के ग्राहक नहीं हैं, वे अपने नजदीकी एक्सिस बैंक शाखा या वीडियो केवाईसी के जरिए घर बैठे ही बैंक में अपना खाता खुलवा सकते हैं और वियर एन पे डिवाइसेज का प्रयोग कर सकते हैं। किसी भी ऐसे मर्चेंट के पास जो कांटैक्टलेस पेमेंट स्वीकार करते हों, उनके यहां Wear N Pay डिवाइसेज के जरिए बिना किसी दिक्कत के पेमेंट कर सकते हैं। इसके चलते अब वॉलेट या फोन लेकर चलने की झंझट खत्म हो गई है।

5000 रुपए तक की हो सकती है पेमेंट

इसके लिए यूजर्स को पीओएस मशीन के ऊपर वियरेबल्स को लाना होगा और पेमेंट हो जाएगा जैसे कार्ड के जरिए कांटैक्टलेस पेमेंट करते हैं। हालांकि इससे 5 हजार रुपये तक का ही पेमेंट किया जा सकेगा। 5 हजार रुपये से अधिक के पेमेंट के लिए पिन की जरूरत पड़ेगी यानी पेमेंट कांटैक्टलेस नहीं रहेगा। इस प्रोग्राम के तहत ग्राहकों को 10 फीसदी कैशबैक मिलेगा। इसके अलावा पर्चेज लिमिट के 100 फीसदी के बराबार फ्रॉड लायबिलिटी कवर भी मिलेगा।

हाल ही में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने Contactless ट्रांजेक्शन की सीमा 2000 रुपये से बढ़ाकर 5000 रुपये कर दिया है। यानी 5000 रुपये तक के पेमेंट के लिए आपको पिन नंबर डालने की जरूरत नहीं है। किसी वाई-फाई कार्ड या फिर वियरेबल डिवाइस की मदद से पेमेंट की जा सकती है। इसटेक्नोलॉजी की बात करें तो वियरेबल पेमेंट डिवाइस की तकनीक भले भारत में अब लॉन्च हो रहा हो, लेकिन ये टेक्नोलॉजी नई नहीं है। अमेरिका और यूरोप समेत कई देशों में स्मार्टवॉच की मदद से पेमेंट किए जाते हैं। एप्पल , सैमसंग और फिटबिट के स्मार्टवॉच में पेमेंट ऑप्शन पहले से ही मौजूद है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है