Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,855,783
मामले (भारत)
201,702,198
मामले (दुनिया)
×

Love Marriage के लिए नहीं मान रहे पेरेंट्स, ये पांच तरीके आ सकते हैं आपके काम

Love Marriage के लिए नहीं मान रहे पेरेंट्स, ये पांच तरीके आ सकते हैं आपके काम

- Advertisement -

हमारे देश में शादी को लेकर समय के साथ काफी बदलाव आ गया है। अब लव मैरेज (Love Marriage) अरेंज मैरेज जितनी ही आम होती जा रही है लेकिन अभी भी कई परिवार हैं, जहां इस तरह की शादी को इजाजत नहीं मिलती है। दो लोगों को शादी करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है तब कहीं जाकर बात बनती है या फिर बात कभी नहीं बन पाती। अगर आपका परिवार (family) भी उनमें से एक है, तो हम आपको कुछ टिप्स बताते हैं जो शायद आपको अपने पेरेंट्स को मनाने में काम आ सकते हैं …

यह भी पढ़ें: Corona की दवाई बनाने में गाय की ली जा रही मदद, अगले माह होगा Human Trial


किसी रिश्तेदार की मदद लें – पेरेंट्स (Parents) को बताने से पहले ऐसे रिश्तेदार की मदद लें, जिसकी आपके माता-पिता की नजरों में इज्जत हो या फिर उसे काफी ज्यादा लाड किया जाता हो। उसके साथ मिलकर तय करें कि आप कैसे इस जानकारी को परिवार के सामने रखेंगे और कैसे उन्हें इसके लिए मनाएंगे। जब बात करने जाएं, तो इस रिश्तेदार को भी साथ में ले जाएं, ताकि बात बिगड़ने पर वह स्थिति को संभालकर आपका पक्ष ले सके।

सही टाइम का चुनाव करें – अगर आपको पहले से पता है कि आपके माता-पिता आपके लव मैरेज करने के फैसले को लेकर ऑब्जेक्ट कर सकते हैं, तो बेहतर यही है कि उन्हें इसकी जानकारी देने के लिए सही समय का इंतजार किया जाए। ऐसी सिचुएशन का वेट करें जब आपके पेरेंट्स अच्छे मूड में हों और घर के माहौल में भी किसी प्रकार का टेंशन न हो। इस दौरान बातों-बातों में उन्हें बताएं कि आपकी जिंदगी में कोई स्पेशल है, जिसके साथ आप जिंदगी बिताना चाहते हैं।

जीवनसाथी की खासियत बताएं – आपने जिसे अपना जीवनसाथी बनाने का निर्णय लिया है, उसके बारे में अपने पेरेंट्स को बताएं। जॉब प्रोफाइल से लेकर यह जानकारी शेयर करें कि वह क्यों आपके और परिवार के लिए भी परफेक्ट चॉइस है? अगर आपका कोई ऐसा एक्सपीरियंस हो, जिसमें आप किसी मुश्किल समय से गुजर रहे हों और उस दौरान आपके लव्ड वन ने आपका साथ दिया हो, तो उसे शेयर करना न भूलें। यह इंसिडेंट पेरेंट्स को यह समझने में मदद करेगा कि आपने जिसे चुना है, वह हर स्थिति में आपके साथ मजबूती से खड़ा रहेगा।

खुद को मैच्योर साबित करें – यह पॉइंट सबसे ज्यादा अहम है। अगर माता-पिता को यह यकीन नहीं होगा कि उनकी बेटी या बेटा अपने लिए सही निर्णय ले सकते हैं, तो वे कभी भी उनकी पसंद के लिए राजी नहीं होंगे। बेहतर है कि अपने पेरेंट्स का विश्वास जीतें और यह साबित करें कि आप मैच्योर पर्सन हैं, जो शादी जैसे रिश्ते को निभाने के लिए तैयार है। ऐसा होगा तभी आपकी बात में माता-पिता को थोड़ा वजन नजर आएगा।

धोड़ा धैर्य रखें – यह उम्मीद न करें कि आपके पेरेंट्स आपके कहते ही चीजों के लिए राजी हो जाएंगे। इस स्थिति में आपको धैर्य बनाए रखना बेहद जरूरी है। अगर वे इनकार कर दें, तो नॉर्मल रिऐक्ट करते रहें और इसी मूड को बनाए रखते हुए समय-समय पर उनसे पूछें जरूर ‘क्या आपकी शादी के बारे में राय बदली?’ अगर आप बगावती तेवर दिखाएंगे, तब आपके पेरेंट्स भले ही दबाव के कारण राजी हो जाएं, लेकिन शादी के बाद उनके लिए आपके जीवनसाथी को स्वीकार कर पाना काफी मुश्किल होगा, जो पार्टनर के लिए अच्छा नहीं रहेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है