Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

साढ़े बारह घंटे पहले टली Nirbhaya के दोषियों की ‘मौत’, फिर रद्द हुआ डेथ वारंट

साढ़े बारह घंटे पहले टली Nirbhaya के दोषियों की ‘मौत’, फिर रद्द हुआ डेथ वारंट

- Advertisement -

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya) के दोषियों की फांसी से बचने की एक और तरकीब काम आ गई है। खबर है कि पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) ने दोषियों के डेथ वारंट पर एक बार फिर रोक लगा दी है। ऐसा तीसरी बार हुआ है, जब दोषियों की फांसी की सजा की तय तारीख टली हो। इससे पहले सोमवार को ही दोषी पवन कुमार की क्यूरेटिव पिटीशन (Curative petition) सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने खारिज कर दिया था। वहीं पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) ने दोषियों को करार झटका देते हुए दोषी अक्षय और पवन की तरफ से लगाई गई याचिका को खारिज करते हुए दोषियों का डेथ वॉरंट (Death Warrant) को रद्द करने से इनकार कर दिया।

यह भी पढ़ें: भारत दौरे के लिए हुआ South African टीम का ऐलान, ये खिलाड़ी आएंगे धर्मशाला

अक्षय और पवन ने डेथ वॉरंट पर रोक लगाने की अपील की थी। बता दें, दोषियों को तीन मार्च सुबह 6 बजे फांसी होने वाली थी। दोषी अक्षय के वकील ने पटियाला हाउस कोर्ट में 3 मार्च को होने वाली फांसी रुकवाने की मांग की थी। वकील ने यह दलील दी थी कि दया याचिका में पूरे दस्‍तावेज नहीं थे, जिसके कारण उसकी अर्जी खारिज हो गई थी। ऐसे में उसे दोबारा से दया याचिका दाखिल करने की अनुमति मिले और फांसी की सजा पर रोक लगे। दोषी पवन की दया याचिका खारिज होने के बाद अब सभी दोषियों के पास कानूनी विकल्प खत्म हो गए हैं। अब देखना ये होगा कि पटियाला हाउस कोर्ट पर पवन की दया याचिका खारिज हो जाने के बाद उसे 14 दिन का समय देता है या नहीं। वहीं अभी केंद्र द्वारा दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में 5 मार्च को सुनवाई होनी है। इस याचिका में सभी आरोपियों को अलग-अलग फांसी दिए जाने की मांग की गई है ।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है