हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022

BJP

25

INC

40

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

जी-20 में पीएम मोदी ने जो बाइडन को भेंट की कांगड़ा की मिनिएचर पेंटिंग

इंडोनेशिया की पीएम जोको विडोडो को उपहार स्वरूप दी किन्नौरी शॉल

जी-20 में पीएम मोदी ने जो बाइडन को भेंट की कांगड़ा की मिनिएचर पेंटिंग

- Advertisement -

धर्मशाला, मंडी। इंडोनेशिया (Indonesia) की राजधानी बाली में जी 20 शिखर सम्मेलन संपन्न हो गया। इसमें पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन को कांगड़ा मिनिएचर पेंटिंग (Kangra Miniature Painting) भेंट की है। इससे कांगड़ा का सम्मान बढ़ा है। वहीं पीएम ने स्पेन के पीएम पेड्रो सांचेज को कुल्लू में बनने वाली रणसिंघे की जोड़ी भी भेंट की। वहीं उन्होंने इंडोनेशिया की पीएम जोको विडोडो (PM Joko Widodo) को किन्नौरी शॉल भेंट की है।

यह भी पढ़ें:जी-20 शिखर सम्मेलन: पीएम मोदी की सुनक के साथ पहली मुलाकात

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी जी-20 सम्मेलन में भाग लेने के लिए बाली गए थे। इससे पहले उन्होंने कांगड़ा में बनने वाले कई उत्पाद कई राष्ट्रध्यक्षों को भेंट किए। उन्होंने हिमाचल में कहा भी था कि वह भारत के हर पारंपरिक उत्पादों को विश्वभर में फैला देना चाहते हैं। कांगड़ा मिनिएचर पेंटिंग को पहाड़ी शैली की चित्रकला भी कहा जाता है। इसकी शुरुआत गुलेर राजघराने से हुई थी। नैनसुख और मानकू जैसे बड़े चित्रकारों ने इस कला को परवान चढ़ाया। कांगड़ा चित्रकला में सभी रंग वनस्पति से लिए जाते हैं जबकि ब्रश गिलहरी की पूंछ के बालों से बनाए जाते थे। पहाड़ी कला के सबसे संरक्षक के रूप में इतिहास कांगड़ा के महाराजा संसार चंद को याद करता है।

kinauri-shawl

kinauri-shawl

पीएम ने स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज को करनाल की जोड़ी भेंट की

पीएम मोदी ने जी.20 शिखर सम्मेलन में स्पेन के पीएम पेड्रो सांचेज को करनाल की जोड़ी भेंट की है। यह एक पारंपरिक वाद्य यंत्र है। इससे पहले भी मोदी हिमाचल की टोपी, शाल व अन्य पारंपरिक उत्पादों (Caps, shawls and other traditional products) को विदेशों के राष्ट्राध्यक्षों को भेंट कर प्रोत्साहित कर चुके हैं। मोदी हिमाचल को अपना दूसरा घर मानते हैं। यहां के उत्पादों को वैश्चिक मंच पर स्थान दिलाने का भरसक प्रयास करते रहते हैं।

karnal

karnal

इस करनाल की जोड़ी को सीएम जयराम ठाकुर के गृहविधानसभा क्षेत्र सराज के हस्तशिल्पी वीर सिंह (Handcrafter Veer Singh) ने बनाया है। इसको बनाने 12 से 14 दिन लगे थे। दोनों करनालों का वजन पांच किलो है और इसमें पीतल का इस्तेमाल हुआ है। करनाल अकसर लोक उत्सवों व देवी देवताओं के वाद्य यंत्र के रूप में प्रयोग होता है। देव प्रस्थान से पहले बजंतरी करनाल से नाद करते हैं। स्पेन के पीएम को करनाल की जोड़ी भेंट कर मोदी ने पूरे विश्व का ध्यान हिमाचल की कला की ओर आकर्षित किया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है