Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,944,783
मामले (भारत)
179,349,385
मामले (दुनिया)
×

‘रोटी’ नहीं होते रेडी-टू-कुक परांठे, लगेगा 18% GST; सोशल मीडिया पर बने मजेदार Memes

‘रोटी’ नहीं होते रेडी-टू-कुक परांठे, लगेगा 18% GST; सोशल मीडिया पर बने मजेदार Memes

- Advertisement -

नई दिल्ली। लोग भले ही खान-पान में रोटी और परांठे की महत्ता में अंतर नहीं करते हों लेकिन वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की दुनिया में दोनों को एक समान नहीं माना जाता है। इस संबंध में एक जीएसटी विवाद को लेकर कर्नाटक की एडवांस रूलिंग्स अथॉरिटी ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। अथॉरिटी फॉर एडवांस रूलिंग्स (Authority for Advanced Rules) (कर्नाटक बेंच) के अनुसार, आईडी फ्रैश फूड के रेडी-टू-कुक परांठों और मालाबार परांठों (Ready-to-Cook Paranthas and Malabar Paranthas) पर 18% जीएसटी (GST) ही लगेगा। कंपनी ने परांठों को ‘खाकरा, सादी चपाती व रोटी’ की श्रेणी में रखने और 5% टैक्स लगाने की मांग की थी। हालांकि, अथॉरिटी ने कहा कि परांठे इनमें से कुछ नहीं और उन्हें पहले गर्म करना पड़ता है।

यह भी पढ़ें: Covid-19 संकट के बीच ये पहुंच गए थाने का घेराव करने, मुर्दाबाद के भी लगाए नारे

सोशल मीडिया लोग मांग रहे परांठे के लिए न्याय

वहीं अथॉरिटी फॉर एडवांस रूलिंग्स द्वारा यह फैसला सुनाने के बाद सोशल मीडिया इस विषय को लेकर मजेदार मीम्स बनाने का सिलसिला शुरू हो गया है। सोशल मीडिया पर इस विषय को लेकर लोगों द्वारा खूब मीम और जोक्स बनाए जा रहे हैं, जिसमें लोग परांठे के लिए न्याय की मांग कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर जोरों शोरों से रोटी और परांठे की चर्चा होने लगी। कुछ लोग सोचने लगे कि अब कुल्चा और नान का क्या होगा। वहीं कुछ ने सुझाव दिया कि कीमा परांठे पर लग्जरी टैक्स लगना चाहिए।

जानें आनंद महिंद्रा ने विषय पर क्या लिखा

इतना ही नहीं कई सेलिब्रेटीज ने भी अपनी राय रखी। उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने लिखा, ‘देश के सामने आने वाली अन्य सभी चुनौतियों के साथ, यह आपको आश्चर्यचकित करता है अगर हमें ‘परांठा’ के अस्तित्व के संकट की चिंता करनी पड़े। किसी भी मामले में भारतीय जुगाड़ कौशल को देखते हुए मुझे पूरा यकीन है कि ‘परोटी (परांठा और रोटी)’ की एक नई ब्रीड सामने आएगी जो किसी भी कैटगरिज़ैशन को चुनौती देगी!’

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है