Covid-19 Update

2,27,195
मामले (हिमाचल)
2,22,513
मरीज ठीक हुए
3,831
मौत
34,596,776
मामले (भारत)
263,226,798
मामले (दुनिया)

चिंताजनकः अमेरिका में लाखों लोगों में कोरोना संक्रमण के बाद सूंघने की समस्या

ज्यादातर लोग अंतत: सूंघने की अपनी क्षमता को ठीक कर लेते हैं,

चिंताजनकः अमेरिका में लाखों लोगों में कोरोना संक्रमण के बाद सूंघने की समस्या

- Advertisement -

न्यूयॉर्क। अमेरिका में एक लाख से ज्यादा लोगों को कोरोना संक्रमण के महीनों बाद भी सूंघने का अहसास नहीं हो पाया है। यह जानकारी एक नए अध्ययन में सामने आई है।जेएएमए ओटोलरींगोलॉजी-हेड एंड नेक सर्जरी जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में अनुमान लगाया गया है कि अमेरिका में 7,00,000 से 16 लाख लोग हैं जिन्हें कोरोना हुआ उनमें सूघंने की समस्या आ रही है या वे लोग बीते छह महीने से सूघंने में असमर्थ हैं। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, सेंट लुइस में वाशिंगटन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं के अनुसार, इसे कम करके आंका जा सकता है। अध्ययन से पता चला है कि ज्यादातर लोग अंतत: सूंघने की अपनी क्षमता को ठीक कर लेते हैं, लेकिन कुछ लोग इसे फिर से हासिल नहीं कर पाते हैं।

यह भी पढ़ें:हिमाचलः बुजुर्ग की मौत के तीन माह बाद जारी किया कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज का प्रमाणपत्र

लेखक इसे एक चिंता का विषय मान रहे हैं क्योंकि, तुलनात्मक रूप से, महामारी से पहले, केवल 1.33 लाख वयस्कों की उम्र 40 और उससे अधिक थी, जिसे वैज्ञानिक घ्राण रोग (ओडी) या पुरानी घ्राण शिथिलता (सीओडी) कहते हैं।अध्ययन में कहा गया कि “ये आंकड़े ओडी की उभरती सार्वजनिक स्वास्थ्य चिंता और शोध की तत्काल आवश्यकता का सुझाव देते हैं जो कोरोना सीओडी के इलाज पर केंद्रित है।” पिछले साल एक अध्ययन में पाया गया कि कोरोना वाले 72 प्रतिशत लोगों ने एक महीने के बाद सूंघने की क्षमता को ठीक कर लिया, लेकिन कुछ के लिए, यह बहुत धीमी प्रक्रिया है।

–आईएएनएस

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है