Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

तीन दिन बाद सिर्फ ‘आंख बंद’ होने के बाद आता है पानी, दो साल से झेल रहे पेयजल परेशानी

तीन दिन बाद सिर्फ ‘आंख बंद’ होने के बाद आता है पानी, दो साल से झेल रहे पेयजल परेशानी

- Advertisement -

परस राम भारती/बंजार। सरकार यूं तो लोगों को हर घर सुविधा मुहैया करवाने के वादे करती है, लेकिन धरातल पर हकीकत कुछ और है। जिला कुल्लू (District Kullu) के बंजार उपमंडल की ग्राम पंचायत मंगलौर के मंगलौर गांव में ग्रामीणों की लंबे समय से चली आ रही पेयजल समस्या का अभी तक कोई समाधान होता नहीं दिख रहा है। पिछले करीब दो वर्षों से गांव मंगलौर के बाशिंदे पेयजल की गंभीर समस्या (Drinking water problem) का सामना कर रहे हैं। कई लोगों ने यहां पर प्राइवेट कनेक्शन (Private connection) भी ले रखे हैं जिनमें पानी नहीं आ रहा है इसके अलावा यहां पर लगे सार्वजनिक नलके भी दिन के समय सूख जाते हैं जिनमें आजकल तीन दिन बाद केवल रात के समय ही कुछ घंटों के लिए पानी आता है। ग्रामीण करीब दो वर्षों से पीने के पानी की इस समस्या का सामना कर रहे हैं। अपनी इस समस्या को लेकर कई बार ग्रामीण विभागीय अधिकारियों को लिखित, मौखिक और मीडिया के माध्यम से सूचित कर चुके हैं, लेकिन अभी तक लोगों की समस्या का कोई भी समाधान (Solution) नहीं हो पाया है।

 


 

अब ग्रामीणों ने इस समस्या की शिकायत मुख्यमंत्री संकल्प सेवा में मुताबिक शिकायत संख्या-272288 के दर्ज करवा दी गई है जहां से इस समस्या का समाधान शीघ्र करवाने बारे आश्वासन मिला है। मंगलौर गांव के बाशिंदों गोपाल सिंह, अनुप राम, तुले राम, आशा देवी, हेम राज, हिमंत राम, नोक सिंह, रेवा देवी, भाग सिंह, बार्ड पंच शान्ता देवी, मेघ सिंह, बुध राम, मीरा देवी, डोले सिंह, आशा देवी, उत्तम, जोगिंदर, सुरेन्द्र पाल, डोलमा देवी, निका राम, हुकम राम, टिकम राम, रूप चन्द और राम सिंह आदि का कहना है कि उनके गांव के लिए विभाग द्वारा पाइप लाइन तो बिछा दी गई है जो चढ़ाई की ओर को है जिसकी लाइनमेंट सही नहीं है जिस कारण उनके नलों में पानी नहीं पहुंच रहा है। इस पाइप लाइन से केवल कुछ ही परिवार लाभान्वित हो रहे हैं, जबकि सभी ग्रामीणों तक पानी नहीं पहुंच रहा है।

 

 

लोगों को पीना पड़ रहा नदी-नालों का पानी

मंगलौर गांव में पिछले एक माह से तो हालात और भी खराब हो गए हैं अब तीन दिनों के बाद रात के समय ही केवल कुछ घंटों के लिए पानी आ रहा है जिस कारण लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। इस समस्या के कारण लोगों को मजबूरन नदी-नालों का पानी पीना पड़ रहा है जिससे बीमारी फैलने का खतरा है। लोगों का कहना है कि अपनी इस समस्या के बारे में कई बार विभागीय अधिकारियों को लिखित व मौखिक रूप में शिकायत (complaint) कर चुके हैं लेकिन आज तक उनकी समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। अब इस संबंध में इन्होंने मुख्यमंत्री संकल्प सेवा में भी शिकायत दर्ज करवाई है जहां से समस्या के शीघ्र समाधान का आश्वासन मिला है। ग्रामीणों को उम्मीद है कि सीएम जरूर उनकी समस्या को सुनेंगे और लोगों को लंबे समय से चली आ रही पीने के पानी की समस्या का समाधान मिल जाएगा। लोगों ने विभागीय अधिकारियों से आग्रह किया है कि वे स्वयं मौके पर आकर पाइप लाइन का जायजा लें और पेयजल की पाइप लाइन को सही दिशा में बिछाया जाए ताकि सभी को पर्याप्त मात्रा में पेयजल उपलब्ध हो सके। वहीं, उपमंडल बंजार जल शक्ति विभाग के सहायक अभियंता जसविंदर ठाकुर का कहना है कि अभी तक हमारे पास ऐसी कोई शिकायत नहीं आई है। मामला ध्यान में आते ही हम कार्रवाई करेंगे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है