Covid-19 Update

2,67,577
मामले (हिमाचल)
2, 53, 840
मरीज ठीक हुए
3961*
मौत
40,622,709
मामले (भारत)
366,912,057
मामले (दुनिया)

हिमाचल: ये कार्ड कर रहा श्रमिकों की मदद, 20 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

सिरमौर में 59000 ने करवाया पंजीकरण

हिमाचल: ये कार्ड कर रहा श्रमिकों की मदद, 20 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

- Advertisement -

देश में श्रमिकों को सभी प्रकार से सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके इसके लिए भारत सरकार ने पिछले साल ई-श्रम पोर्टल (e- SHRAM Portal) की शुरुआत की थी। इसी कड़ी में हिमाचल प्रदेश में भी इस योजना के तहत श्रमिकों को हर सुविधा प्रदान करना प्रदेश सरकार का मुख्य मकसद रहा है। योजना के तहत जिला सिरमौर में लगभग 59,000 पात्र व्यक्तियों को पंजीकृत किया गया है।

यह भी पढ़ें- अब हर साल किसानों को 6000 के साथ मिलेंगे 36000 रुपए, करना होगा ये काम

हिमाचल प्रदेश में इस योजना से लगभग 20 लाख से ज्यादा लोगों को जोड़ा जाएगा। जिला श्रम विभाग अधिकारी सिरमौर जितेंद्र बिंद्रा ने बताया कि जिला सिरमौर में भी ई-श्रम पोर्टल में पंजीकरण के लिए सभी स्तरों पर अभियान चलाया गया है, जिसके तहत प्रशासन सहित अन्य संबंधित विभागों, पंचायती राज संस्थाओं व उद्योगों से पात्र लोगों के पंजीकरण के लिए मदद ली जा रही है। योजना के तहत अब तक जिला सिरमौर में लगभग 59,000 पात्र व्यक्तियों को पंजीकृत किया गया है। उन्होंने बताया कि लोगों को ई-श्रम योजना से जोड़ने के लिए खंड विकास अधिकारियों के सहयोग से पंचायत स्तर पर शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। बिंद्रा ने जिला के असंगठित क्षेत्र के सभी पात्र श्रमिकों से इस योजना के तहत अपना पंजीकरण करवाना सुनिश्चित करने का आह्वान किया है। उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिए श्रमिक जिला श्रम अधिकारी के कार्यालय या e- shram.gov.in या टोल फ्री नंबर 14434 पर कॉल कर सकते हैं।

बता दें कि देश व प्रदेश में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए भारत सरकार ने 26 अगस्त 2021 को ई-श्रम पोर्टल की शुरुआत की थी। ई-श्रम पोर्टल पर ई-पंजीकरण करवाने पर श्रमिक कार्ड दिया जाएगा, जिसके माध्यम से असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों को संगठित क्षेत्र के लोगों के समान सुविधाएं दी जाएंगी। गौरतलब है कि श्रमिकों के हितों की रक्षा और सुरक्षा, कल्याण को बढ़ावा देने व सामाजिक सुरक्षा प्रदान करके देश के श्रम बल के जीवन और सम्मान में सुधार के लिए सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई गई हैं। भारत सरकार द्वारा ई-श्रम पोर्टल के अंतर्गत लगभग 38 करोड़ लोगों को पंजीकृत करने की योजना बनाई गई है।

क्या है ई-श्रम कार्ड

भारत सरकार श्रमिकों को ई-श्रम कार्ड उपलब्ध कराएगी। सभी ई-श्रम कार्ड में एक 12 अंकों यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) (UAN) (Universal Account Number) होगा, जो कि पूरे देश में मान्य होगा। इस कार्ड के माध्यम से श्रामिक कभी भी, कहीं भी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के विभिन्न लाभों का फायदा उठा सकता है।

कौन बनवा सकते हैं ई-श्रम कार्ड

कोई भी कामगार व्यक्ति ई-श्रम कार्ड बनवा सकता है। जिसमें घर पर काम करने वाले, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, मनरेगा, आशा वर्कर, मछली पालक, रेहड़ी वाले, छोटे दुकानदार, दुकानों में काम करने वाले श्रमिक, टैक्सी चालक, ऑटो रिक्शा चालक, बस ट्रक चालक व परिचालक, प्लंबर, कूड़ा कचरा उठाने वाले श्रमिक, बोझ उठाने वाले श्रमिक, खेतिहर किसान और इसी तरह किसी भी अन्य असंगठित क्षेत्र के श्रमिक शामिल हैं।

पंजीकरण के लिए दस्तावेज और योग्यता

ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के लिए श्रमिक के पास आधार कार्ड, मोबाइल नंबर जो आधार कार्ड से लिंक हो और सेविंग बैंक अकाउंट नंबर होना आवश्यक है। पंजीकरण के लिए श्रमिक की आयु 16 से 59 वर्ष के बीच होना जरूरी है। इसके अलावा उन्हें कर्मचारी राज्य बीमा निगम व कर्मचारी भविष्य निधि का लाभ न मिल रहा हो और वह आयकर दाता न हो। कामगार e-shram.gov.in पोर्टल पर स्वयं लाग इन कर सकता है या फिर नजदीकी लोकमित्र केंद्र या सीएससी केंद्र में जाकर मुफ्त में अपना पंजीकरण करवाकर अपना ई-श्रम कार्ड हासिल कर सकता है।

ई-श्रम पोर्टल पर कैसे मिलेगा लाभ

असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों का डेटाबेस तैयार करने के लिए ई-श्रम पोर्टल की शुरुआत इसी साल की गई। सरकार का मुख्य मकसद यह जानकारी हासिल करना है कि कितने लोग असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे हैं, जिन तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाना है। यानी की ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण करने से सरकार और असंगठित कामगारों के बीच की दूरी खत्म होगी, जिससे सरकार और उनके द्वारा वर्तमान और भविष्य में शुरू की जाने वाली योजनाएं का लाभ श्रमिकों तक सीधा पहुंचेगा।

सरकारी योजनाओं का फायदा

कोरोना संकट या कोई प्राकृतिक आपदा आई, जिससे की कामकाज पर असर पड़ा, तो श्रम एवं रोजगार मंत्रालय की ओर से अंसगठित क्षेत्र में काम करने वाले हर एक कामगार तक मदद पहुंचाने में सरकारी योजनाओं का फायदा दिया जाएगा। ई-श्रम कार्ड के जरिए सभी सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकेंगे।

असंगठित क्षेत्र के कामगार को कितनी योजनाओं का निलेगा लाभ

पोर्टल पर पंजीकृत कोई भी असंगठित कामगार सरकार की भावी योजनाओं और सेवाओं से अछूता नहीं रहेगा। यानी की ई-श्रम कार्ड के माध्यम से कामगारों को वर्तमान की योजनाओं के अलावा भविष्य में शुरू होने वाली सभी योजनाओं का फायदा मिलेगा। जो भी श्रमिक,जिन्होंने अपना ई-पंजीकरण श्रम पोर्टल पर करवाया है, उन्हें श्रमिक कार्ड दिया जाएगा और इस कार्ड के बन जाने पर श्रमिक को 2 लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा का लाभ भी मिलेगा। अगर श्रमिक आंशिक रूप से विकलांग होता है तो उसे 1 लाख रुपए का लाभ मिलेगा।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है