Covid-19 Update

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

छात्र हित के मुद्दों पर सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी ABVP, तैयार की ये रणनीति

छात्र हित के मुद्दों पर सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी ABVP, तैयार की ये रणनीति

- Advertisement -

नाहन। छात्र हित के विभिन्न मुद्दों को लेकर एबीवीपी (ABVP) ने आंदोलन की रूपरेखा तैयार कर ली है। 7 से 20 फरवरी तक एबीवीपी अपनी मांगों और मुद्दों पर सरकार को घेरेगी। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने छात्र हित के मुद्दों पर प्रदेश सरकार द्वारा ढीला रवैया अपनाए जाने पर रोष प्रकट किया है। बुधवार को नाहन में एबीवीपी पदाधिकारियों ने अपनी इस रणनीति का खुलासा किया। एबीवीपी के प्रदेश प्रांत कार्यकारिणी सदस्य अंशुल शर्मा व जिला संयोजक अंकित शर्मा ने बताया कि प्रदेश में छात्रों से जुड़े कई ज्वलंत मुद्दे हैं, जिसको लेकर छात्र आक्रोशित हैं। अहम मांगों में विश्वविद्यालय में परीक्षा परिणाम एवं पुनर्मूल्यांकन के परिणामों को तुरंत घोषित करने के अलावा छात्र संघ चुनाव (Student Union Election) बहाल करने की मांग है।


यह भी पढ़ें: खाई में गिरी कार, NH प्राधिकरण ज्यूरी के वरिष्ठ सहायक की गई जान

विश्वविद्यालय में पत्राचार विभाग की फीस वृद्धि वापिस लेने की मांग भी की गई है। उन्होंने कहा कि 7 फरवरी को इकाई स्तर पर प्रिंसिपल के माध्यम से शिक्षा मंत्री को ज्ञापन भेजा जाएगा। 10 व 11 फरवरी को हस्ताक्षर अभियान होगा। 12 फरवरी को इकाई स्तर पर धरना आयोजित होगा। 14 फरवरी को जिला केंद्रों पर धरना व डीसी के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजा जाएगा। 17 व 18 फरवरी को महाविद्यालय में सांकेतिक भूख हड़ताल की जाएगी। इसके अलावा 20 फरवरी को कक्षाओं का बहिष्कार किया जाएगा। संगठन पदाधिकारियों ने कहा कि इसके बावजूद भी अगर सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती तो और उग्र आंदोलन किया जाएगा।

अंशुल शर्मा ने कहा कि सड़कों की खस्ता हालत के कारण दुर्घटना में लगातार वृद्धि हो रही है। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में परीक्षा परिणाम एवं पुनर्मूल्यांकन के परिणामों को तुरंत घोषित किया जाए। छात्रसंघ चुनाव बहाल किए जाए। केंद्रीय विश्वविद्यालय के स्थायी परिसर का निर्माण कार्य, हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में शिक्षकों व गैर शिक्षकों की नियमित भर्तियां, कृषि विद्यालय पालमपुर एवं वानिकी एवं बागवानी विश्वविद्यालय नौणी की फीस वृद्धि वापस ली जाए। प्रदेश विश्वविद्यालय आईसीडीईओएल की फीस वृद्धि वापस ली जाए। सरकारी मेडिकल कॉलेजों में मूलभूत सुविधाएं प्रदान की जाए। सरकारी विभागों में आउटसोर्सिंग पर प्रतिबंध लगाकर नियमित भर्ती आदि मांगों को लेकर एबीवीपी ने आंदोलन की यह रूपरेखा तैयार की है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है