Covid-19 Update

2,18,202
मामले (हिमाचल)
2,12,736
मरीज ठीक हुए
3,650
मौत
33,650,778
मामले (भारत)
232,110,407
मामले (दुनिया)

वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां को सुझाव, दोषियों को सोनिया गांधी की तरह करें माफ

वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां को सुझाव, दोषियों को सोनिया गांधी की तरह करें माफ

- Advertisement -

नई दिल्ली। निर्भया मामले ( Nirbhaya Case) में सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जय सिंह ( Advocate Indira Jaising)ने एक चौंकाने वाला बयान दिया है। उन्होंने निर्भया की मां से बेची के दरिंदों को माफ करने का आग्रह किया है। जयसिंह ने अपने ट्विटर पर उनसे सोनिया गांधी ( Sonia Gandhi) का उदाहरण देते हुए अपराधियों को माफ करने का अनुरोध किया।  निर्भया की मां आशा देवी ने शुक्रवार को दिल्ली की एक अदालत द्वारा आरोपियों की फांसी की तारीख टालने पर अपनी निराशा व्यक्त की थी। जाहिह है निर्भया के दोषियों को पहले 22 जनवरी को सुबह सात बजे फांसी दी जानी थी उन्हें अब एक फरवरी को फांसी पर लटकाया जाएगा।

यह भी पढ़ें- निर्भया मामले के दोषी पवन ने खेला नया दांव, नाबालिग होने का तर्क लेकर पहुंचा SC

इंदिरा जयसिंह ने ट्वीट कर कहा, ” मैं आशा देवी  के दर्द से पूरी तरह से वाकिफ हूं। मैं अनुराध करती हूं कि वह सोनिया गांधी के  उदाहरण का अनुसरण करें, जिन्होंने नलिनी को माफ कर दिया और कहा कि वह उसके लिए मौत की सजा नहीं चाहती। हम आप के साथ है लेकिन मौत की सजा के खिलाफ है। ”

इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए आशा देवी ने कहा कि इंदिरा जयसिंह उन्हें सुजाव देने वाली कौन होती है? पूरा देश आरोपियों के लिए फांसी चाहता है। उनके जैसे लोगों के कारण दुष्कर्म पीडिताओं को न्याय नहीं मिल पाता। उन्होंने कहा कि अब मैं जरूर कहना चाहूंगी कि जब 2012 में घटना हुई तब इन्हीं लोगों ने हाथ में तिरंगा लिया और काली पट्टी बांधी, खूब रैलियां कीं, खूब नारे लगाए। लेकिन आज यही लोग उस बच्ची की मौत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है