Covid-19 Update

2,16,430
मामले (हिमाचल)
2,11,215
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,380,438
मामले (भारत)
227,512,079
मामले (दुनिया)

अधिकारियों को 31 अगस्त तक यह कैसा प्लान तैयार करने को कह गए Anurag Thakur- जानिए

अधिकारियों को 31 अगस्त तक यह कैसा प्लान तैयार करने को कह गए Anurag Thakur- जानिए

- Advertisement -

धर्मशाला। केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट मामले राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा कि आत्म निर्भर योजना के तहत कृषि तथा बागवानी विभाग के अधिकारियों को व्यापक स्तर पर सब्जियां, नगदी फसलें तथा फल उत्पादन में बढ़ोतरी की संभावनाओं का प्लान 31 अगस्त तक तैयार करने के निर्देश दिए हैं, ताकि किसानों की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने के साथ-साथ ग्रामीण स्तर पर स्वरोजगार उपलब्ध करवाया जा सके। अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को दिल्ली से वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से धर्मशाला (Dharamshala) में जिला स्तरीय समन्वय एवं निगरानी की समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि खाली पड़ी कृषि योग्य भूमि का ब्यौरा भी तैयार किया जाए ताकि उक्त जमीन पर कांट्रेक्ट फार्मिंग या अन्य माध्यमों से नगदी फसलें, सब्जियां उगाने के लिए उपयोग किया जा सके। इससे किसानों को भी आर्थिक लाभ मिलेगा तथा कृषि उत्पादन में भी बढ़ोतरी होगी। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग (Agriculture Department) के अधिकारी नियमित तौर पर फील्ड में जाकर किसानों की समस्याओं का त्वारित निदान सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि फसल बीमा योजना का व्यापक प्रचार प्रसार भी सुनिश्चित किया जाए ताकि ज्यादा से ज्यादा पात्र किसान लाभांवित हो सकें।

यह भी पढ़ें: Himachal में साल में दो बार होगी आम की फसल, सरकार करने जा रही कुछ ऐसा

 

उन्होंने कहा कि कोविड-19 (Covid-19) महामारी के कारण पूरे विश्व में संकट पैदा हुआ है। इस महामारी के चलते लोगों को असुविधा का सामना ना करना पड़े, इसके लिए हमें मिलकर प्रयास और नए विचार तथा नई सोच के साथ कार्य करना होगा। उन्होंने संतोष जताया कि कांगड़ा (Kangra) जिला में कोविड-19 महामारी का नियंत्रित करने एवं इसकी रोकथाम के लिए समय पर उचित कदम उठाए गए हैं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आयुष्मान तथा हिम केयर योजना का सुचारू क्रिर्यान्वयन सुनिश्चित किया जाए तथा पात्र लोगों को इस योजना के लाभ बारे भी विस्तार से जानकारी प्रदान की जाए, ताकि किसी भी गरीब तथा निर्धन व्यक्ति को उपचार से वंचित नहीं रहना पड़े। केंद्रीय राज्य मंत्री ने स्वास्थ्य विभाग (Health Department) को निर्देश दिए कि वे विभिन्न रोगों के उपचार में लक्ष्य निर्धारित करते हुए कार्य करें, ताकि टीबी, एड्स, नशामुक्ति इत्यादि के क्षेत्र में समयबद्ध परिणाम प्राप्त किए जा सकें।

स्वयं सहायता समूहों को बेहतर उत्पाद तैयार करने के लिए किया जाए प्रशिक्षित

केंद्रीय राज्य वित्त मंत्री ने कहा कि स्वयं सहायता समूहों को बेहतर तरीके से उत्पाद तैयार करने के लिए प्रशिक्षित किया जाए और विपणन की व्यवस्था भी की जाए ताकि महिलाएं आर्थिक तौर पर सशक्त हो सकें। उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में सभी घरों तक बिजली कनेक्शन प्रदान करने तथा शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में आवासीय सुविधा प्रदान करने के लिए भी तत्परता के साथ कार्य किया जाए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि कांगड़ा जिला के गांवों को सड़क सुविधा के साथ जोड़ने के लिए भी उचित कदम उठाए जाए।

यह भी पढ़ें: चार दिन के Kangra प्रवास पर आ रहे जयराम, Dehra बैठक में करेंगे शिरकत

 

केंद्र सरकार ने शिक्षा व्यवस्था के लिए प्रारंभ किया ‘स्वयंप्रभा’ चैनल

अनुराग ठाकुर ने कहा कि भू-जल स्तर में बढ़ोतरी के साथ-साथ उपलब्ध जल का सिंचाई एवं अन्य कार्यों में बेहतर उपयोग भी सुनिश्चित करें। इसके लिए एक सफल मॉडल विकसित करें और इसमें पौधारोपण को भी शामिल करें। उन्होंने कहा कि जिला में कूड़ा-कचरा निस्तारण के लिए एक संयुक्त डंपिंग स्थल एवं संयंत्र की संभावनाएं तलाशें। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण शिक्षा व्यवस्था प्रभावित न हो, इसके लिए केंद्र सरकार ने ‘स्वयंप्रभा’ चैनल प्रारंभ किया है। इसमें विषय सामग्री चैप्टरवाइज एवं कक्षावार तैयार की गई है। इसका व्यापक प्रचार-प्रसार कर विद्यार्थियों को इसका लाभ उठाने के लिए प्रेरित करें। बैठक में महिला एवं बाल विकास की विभिन्न्न योजनाओं, पोषण अभियान, गरीब कल्याण योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना और अन्य योजनाओं की प्रगति की समीक्षा भी की गई। सांसद किशन कपूर (MP Kishan Kapoor) ने कहा कि केंद्र प्रयोजित स्कीमों की नियमित तौर पर समीक्षा की जाए तथा विकास कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए और निर्माण कार्यों को समयबद्व पूरा करने के लिए भी उचित कदम उठाए जाएं। डीसी राकेश कुमार प्रजापति ने बैठक का संचालन किया और उन्होंने केंद्रीय राज्य मंत्री को आश्वस्त किया कि बैठक में दिए गए दिशा-निर्देशों की समयबद्ध अनुपालना सुनिश्चित की जाएगी।

यह भी पढ़ें: सिरमौर में IIM का शिलान्यास, जयराम बोले: शिक्षा का मुख्य केंद्र बनकर उभरा Himachal

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है