Covid-19 Update

2,67,577
मामले (हिमाचल)
2, 53, 840
मरीज ठीक हुए
3961*
मौत
40,858,241
मामले (भारत)
370,456,718
मामले (दुनिया)

हिमाचल: एम्स बिलासपुर में ओपीडी का शुभारंभ, पहली मरीज कुल्लू की रेखा का हुआ उपचार

मनसुख मंडाविया ने कहा एम्स राज्य को केंद्र सरकार का एक अमूल्य उपहार

हिमाचल: एम्स बिलासपुर में ओपीडी का शुभारंभ, पहली मरीज कुल्लू की रेखा का हुआ उपचार

- Advertisement -

शिमला। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा (National President Jagat Prakash Nadda) ने कहा कि आगामी छह महीनों के भीतर एम्स बिलासपुर को पूरी तरह से शुरू कर दिया जाएगा और क्षेत्र के लोगों के साथ प्रदेश के लोगों को राज्य में ही अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध होंगी। वे रविवार को बिलासपुर में राज्य की लक्षित पात्र आबादी के शत-प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने के ऐतिहासिक अवसर पर कोविड टीकाकरण के अन्तर्गत कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि इस संस्थान की आधारशिला पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा लगभग तीन वर्ष पहले रखी गई थी। इस संस्थान को एक वर्ष पूर्व पूरा कर लिया जाता, लेकिन कोरोना महामारी के कारण इस संस्थान के कार्य की गति प्रभावित हुई।

यह भी पढ़ें: एम्स में बोले जेपी नड्डा, छोटे राज्य ने कर दिखाया बड़ा काम, मनसुख मंडाविया ने भी की तारीफ

इससे पहले सांसद और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, केंद्रीय स्वास्थ्य, रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया, सीएम जय राम ठाकुर और केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण तथा युवा कार्य एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने जिला बिलासपुर के एम्स कोठीपुरा में ओपीडी जनता को समर्पित की। एम्स बिलासपुर के डॉ. कपिल शर्मा ने इस प्रतिष्ठित संस्थान की पहली ओपीडी (OPD) मरीज जिला कुल्लू की रेखा का ईलाज भी किया। उन्होंने कोविड टीकाकरण में कार्यरत चिकित्सकों और अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को इस अवसर पर सम्मानित किया।

 

 

मनसुख मंडाविया ने बताया केंद्र का अमूल्य उपहार

केंद्रीय स्वास्थ्य, रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा कि एम्स वास्तव में राज्य को केंद्र सरकार का एक अमूल्य उपहार है। उन्होंने कहा कि विश्व ने देश की बौद्धिक ताकत को स्वीकार किया है। उन्होंने कहा कि नासा में कार्यरत 10 वैज्ञानिकों में से लगभग तीन वैज्ञानिक भारतीय हैं। उन्होंने कहा कि विश्व के 100 देशों को भारत में निर्मित एजिनोमाइसिन और रेमडेसीवीर जैसी दवाओं की आपूर्ति की गई। उन्होंने कहा कि देश में 123 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज तैयार की गई है और अन्य देशों को भी इसका निर्यात किया जा रहा है।

प्रदेश के लिए ऐतिहासिक अवसर

इस अवसर पर सीएम जयराम ने कहा कि यह प्रदेश के लोगों के लिए एक ऐतिहासिक अवसर है। प्रदेश के लोगों को स्वास्थ्य क्षेत्र में सर्वोत्तम सेवाएं प्रदान करने में एम्स बिलासपुर की ओपीडी सुविधा मील का पत्थर साबित होगी। सीएम जयराम ने कहा कि आज प्रदेश के लिए एक ऐतिहासिक अवसर है क्योंकि प्रदेश ने लक्षित आयु वर्ग का कोविड टीकाकरण की दूसरी डोज के शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल किया है। उन्होंने कहा कि कठिन भौगोलिक परिस्थितियों के बावजूद प्रदेश ने पात्र आबादी के कोविड टीकाकरण की पहली डोज के शत-प्रतिशत टीकाकरण लक्ष्य को हासिल करने में देश में पहला स्थान प्राप्त किया था और अब प्रदेश ने लक्षित पात्र आबादी को कोविड टीकाकरण की दूसरी डोज के शत.प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल कर इतिहास रच दिया है।

https://youtu.be/4M3hYtn-NdY

 

तीसरी लहर से निपटने को भी तैयार है हिमाचल

जय राम ठाकुर ने कहा कि कोरोना की सम्भावित तीसरीं लहर से निपटने के लिए प्रदेश पूरी तरह तैयार है। राज्य के अस्पतालों में बिस्तरों की क्षमता को 3,804 से बढ़ाकर 8,765 कर दिया गया है जिसकी क्षमता को बढ़ाकर 11,000 किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए सभी महत्त्वपूर्ण कदम उठाए हैं और सभी जिलों में कोविड जांच की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। प्रदेश के सभी जिलों के सभी चिकित्सा महाविद्यालयों और संस्थानों में आरटीपीसीआर सुविधा उपलब्ध करवाई गई है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है