Covid-19 Update

1,58,472
मामले (हिमाचल)
1,20,661
मरीज ठीक हुए
2282
मौत
24,684,077
मामले (भारत)
163,215,601
मामले (दुनिया)
×

इस देश के #राष्ट्रपति को नहीं चाहिए #Corona_Vaccine, मास्क की उपयोगिता पर भी उठाए सवाल

पहले भी ट्विटर पर उड़ा चुके हैं वैक्सीन प्रक्रिया का मजाक

इस देश के #राष्ट्रपति को नहीं चाहिए #Corona_Vaccine, मास्क की उपयोगिता पर भी उठाए सवाल

- Advertisement -

दुनियाभर में कोरोना ने अपना कहर बरपाया और अब लगभग सभी देश इस के खिलाफ वैक्सीन बनाने में जुटे हुए हैं। सभी चाहते हैं कि कोरोना से निपटने के लिए कोई वैक्सीन बने ताकि लोगों को समय पर उपचार दिया जा सके। दुनिया में एक देश ऐसा भी है जिसने शायद इस महामारी को गंभीरता से नहीं लिया है और वह देश है ब्राजील। सभी तो इस देश के राष्ट्रपति जैर बोलसोनारो (Jair Bolsonaro) ने कहा है कि उनके देश को वैक्सीन की जरूरत नहीं है, इसलिए वह वैक्सीन नहीं लेंगे। इसके साथ ही उन्होंने वैक्सीन प्रोग्राम पर भी गंभीर सवाल उठाए।


यह भी पढ़ें: #Corona को मात देकर लौटे DC Shimla ने शहर का किया औचक निरीक्षण, काटे चालान

 


जैर बोलसोनारो ने एक बयान में कहा, ‘मैं आपसे कह रहा हूं, मैं इसे नहीं लेने वाला हूं। यह मेरा हक है।’ राष्ट्रपति का यह बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बोलसोनारो ने मास्क (Mask) की उपयोगिता को भी कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में बेहद कम साक्ष्य हैं कि मास्क कोरोना वायरस (CoronaVirus) संक्रमण को रोकने में प्रभावी है। हालांकि, ये बात अलग है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) सहित सभी स्वास्थ्य एजेंसियां कोरोना से जंग में मास्क को कारगर हथियार बता रही हैं।

राष्ट्रपति जैर बोलसोनारो अपने विवादित बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं। बोलसोनारो ने इससे पहले भी कहा है कि वैक्सीन उपलब्ध होने के बाद ब्राजील के लोगों को वैक्सीन की जरूरत नहीं होगी। इतना ही नहीं, कुछ समय पहले उन्होंने ट्विटर पर वैक्सीन प्रक्रिया का मजाक उड़ाते हुए कहा था कि वैक्सीन की जरूरत केवल उनके कुत्ते को है। जैर बोलसोनारो जुलाई में खुद भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं, लेकिन इसके बावजूद उनके रुख में कोई बदलाव नहीं आया है।

 

 

बता दें कि ब्राजील कोरोना वायरस से हुई मौतों के मामले में दूसरे नंबर पर है, लेकिन राष्ट्रपति स्थिति को गंभीरता को समझने के बजाय महामारी का मजाक उड़ाते रहे हैं और अभी भी उनमें कोई सुधार नजर नहीं आ रहा है। कोरोना की शुरुआत में बोलसोनारो ने लॉकडाउन, सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने जैसे उपायों का कड़ा विरोध किया था, जिसके चलते ब्राजील में हाल बेहाल हो गए थे। ब्राजील में अब तक कोरोना के कुल 62.4 लाख सामने आ चुके हैं और 1.72 लाख लोगों की मौत हो गई है।

 

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखने के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है