×

हिमाचल में 22 मार्च को नहीं चलेंगी बसें, Interstate बस सर्विस पर भी फैसला

हिमाचल में 22 मार्च को नहीं चलेंगी बसें, Interstate बस सर्विस पर भी फैसला

- Advertisement -

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के दृष्टिगत प्रदेश में सभी प्रकार की बस सेवाएं बंद रहेंगी। आगामी आदेशों तक 21 मार्च मध्यरात्रि से अंतर्राज्यीय कांट्रेक्ट कैरिएज को भी बंद कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आपातकालीन परिस्थितियों के मद्देनजर राज्य पथ परिवहन निगम अपनी अन्तर्राज्यीय बस सेवाओं Interstate bus services के रूट को घटाकर 10 प्रतिशत से कम पर लाया जाएगा। केवल दिल्ली, हरिद्वार और चंडीगढ़ के लिए ही निगम की बस सेवाएं संचालित होंगी। इसके अतिरिक्त 21 मार्च मध्यरात्रि से आगामी आदेशों तक प्रदेश के भीतर एचआरटीसी (HRTC) एवं निजी बसों के संचालन में 50 प्रतिशत कमी की जाएगी और किसी भी बस में क्षमता के 70 प्रतिशत से अधिक सवारियां नहीं बिठाई जाएंगी। सभी उपायुक्तों ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए की गई तैयारियों के बारे में सीएम को जानकारी दी।


यह भी पढ़ें: बड़ी खबरः Himachal में कोरोना वायरस के दो मामले पॉजिटिव, प्राथमिक जांच में खुलासा

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज कोरोना वायरस के संक्रमण के संदर्भ में देश के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बातचीत की। सीएम जयराम ठाकुर ने इसके उपरान्त प्रदेश के उपायुक्तों के साथ वीडियो कांन्फ्रेंस करते हुए उन्हें पीएम के आह्वान पर 22 मार्च को जनता कर्फ्यू को सफल बनाना सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने कहा कि यह प्रयास किए जाएं कि लोगों को इस दिन घरों के अंदर रहने के लिए प्रेरित किया जाए। जयराम ठाकुर ने कहा कि स्थिति की निगरानी के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं तथा कॉल सेंटर 104 भी आरंभ किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी राजकीय मेडिकल कॉलेजों सहित 18 स्वास्थ्य संस्थानों में आईसोलेशन वार्ड चिन्हित किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि आईजीएमसी शिमला और टांडा मेडिकल कॉलेज में क्लीनिशियन प्रभारी नियुक्त किए गए हैं और दोनों मेडिकल कॉलेजों के माईक्रोबायोलॉजी विभागों में सैंपल एकत्र करने की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने कहा कि सभी जिला अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में एन-95 मास्क सहित निजी हिफाज़ती उपकरण (पीपीई) की सुविधा प्रदान की गई है, जिनमें 102 बिस्तरों की क्षमता है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि होटल व्यवसायियों से आग्रह किया गया है कि वे आगंतुकों को प्रेरित करें कि यदि वे पिछले 14 दिनों की अवधि में चीन या कोविड-19 प्रभावित देशों की यात्रा पर गए हैं तो स्वयं इसकी जानकारी प्रदान करें। सीएम ने कहा कि जिला स्तर पर जिला परिषद, खंड समितियों और ग्राम सभाओं के साथ बैठकें कर स्वास्थ्य विभाग जनता और पंचायती राज संस्थानों को इस बारे में जागरूक कर रहा है। 8 मार्च, 2020 को महिला ग्राम सभाओं के माध्यम से प्रदेश में विशेष जागरुकता अभियान आयोजित किया गया था। हेल्पलाइन 104 कॉल सेंटर के रूप में चौबीसों घंटे कार्य कर रही है। संदिग्ध मामले सामने आने की स्थिति में लोगों को परिवहन की सुविधा प्रदान करने के लिए तीन 108 एंबुलेंस पीपीई किट के साथ तैयार रखी गई हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है