Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के परिजनों को मिलें 25 लाख, सरकारी नौकरी भी

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के परिजनों को मिलें 25 लाख, सरकारी नौकरी भी

- Advertisement -

शिमला। सीटू राज्य कमेटी ने 19 जनवरी रविवार को पल्स पोलियो ड्यूटी के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ता गीता देवी की बर्फ में फिसलने से हुई मौत के लिए प्रदेश सरकार व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय को ज़िम्मेदार ठहराया है। राज्य कमेटी ने मांग की है कि इस घटनाक्रम के लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर गैर इरादतन हत्या का मुकद्दमा दर्ज करके सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए। राज्य कमेटी ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि पीड़िता के परिजनों को तुरंत 25 लाख रुपए मुआवजा दिया जाए और उसके परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी प्रदान की जाए।

 

यह भी पढ़ें :- पोलियो ड्रॉप्स पिलाने जा रही Anganwadi Worker बर्फ पर फिसली, गई जान

 

सीटू प्रदेशाध्यक्ष हिमाचल प्रदेश विजेंद्र मेहरा ने कड़े शब्दों में कहा है कि गीता देवी की मौत के लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई ना की गई तथा अगर उनके परिवार को उचित मुआवजा नहीं दिया गया तो सीटू प्रदेश सरकार व विभाग की घेराबंदी करेगा। उन्होंने कहा कि गीता देवी से अपने आंगनबाड़ी केंद्र मैल के अलावा 18 किलोमीटर दूर मिनी आंगनबाड़ी केंद्र शकटी का अतिरिक्त कार्य करवाया जा रहा था जो बेहद कम वेतन में गंभीर शोषण है। भारी बर्फबारी में गीता देवी को 18 किलोमीटर चलने व अपनी जान जोखिम में डालने के लिए मजबूर किया गया। बर्फबारी में इतना लंबी दूरी तय करने के लिए उन्हें कई घंटों का पैदल सफर तय करने के लिए प्रदेश सरकार व विभाग ने अनचाहा दबाव बनाया, जिसके फलस्वरूप उनकी जान चली गई।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है