×

Solan: वाकनाघाट में बनेगा पर्यटन, आतिथ्य और सूचना प्रोद्यौगिकी उत्कृष्ट केंद्र, CM ने रखी आधारशिला

केंद्र उद्योगों की मांग के अनुसार सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षित युवाओं को करेगा तैयार

Solan: वाकनाघाट में बनेगा पर्यटन, आतिथ्य और सूचना प्रोद्यौगिकी उत्कृष्ट केंद्र, CM ने रखी आधारशिला

- Advertisement -

सोलन। सीएम जयराम ठाकुर ने बुधवार को जिला सोलन (Solan) के वाकनाघाट (Waknaghat) के निकट ग्राम पंचायत छावसा में 85 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले पर्यटन, आतिथ्य और सूचना प्रोद्यौगिकी के उत्कृष्टता केंद्र (Centre of Excellence for Tourism and Hospitality and Information Technology) की आधारशिला रखी। यह उत्कृष्ट केंद्र देश का चौथा केंद्र होगा और जो 18 माह में बनकर तैयार होगा। यह केंद्र राज्य के युवाओं को उनके कौशल उन्नयन के लिए एक वरदान साबित होगा। सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि यह केंद्र पर्यटन और आतिथ्य उद्योगों को बेहतर व प्रशिक्षित श्रम शक्ति प्रदान करेगा। इस उत्कृष्ट केंद्र में एक सूचना प्रोद्यौगिकी केंद्र, आतिथ्य और पर्यटन के लिए उत्कृष्ट केंद्र, प्रशिक्षण होटल, शिक्षण स्टाफ निवास, छात्र-छात्रावास, स्टाफ क्वार्टर और निदेशक निवास होंगे। उन्होंने कहा कि यह केंद्र उद्योगों की मांग के अनुसार सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षित युवाओं को तैयार करेगा।


यह भी पढ़ें: Himachal में निजी स्कूलों की मनमानी पर Jai Ram सरकार कसेगी नकेल, पढ़ें कैसे

जयराम (Jai Ram) ने कहा कि प्रदेश सरकार इस पूरे क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से भी विकसित करने के प्रयास कर रही है। कई कंपनियों ने इस उत्कृष्टत केंद्र के संचालन में भागीदार बनने के लिए अपनी रूचि दिखाई है। उन्होंने कहा कि संचालन भागीदारों का चयन एडीबी प्रक्रिया (Adb Process) के दिशा-निर्देशों के अनुसार आरंभ किया गया है और सात अंतरराष्ट्रीय कंपनियां और 23 अन्य संगठनों ने इस क्षेत्र में रूचि दिखाई है। यह संस्थान उच्च आईटी कौशल जैसे अनालटिक्स, रैबोटिक्स और आर्टिफिश्यिल इन्टैलिजेंस आदि की मांग को पूरा करेगा। उन्होंने कहा कि यह प्रदेश के नए उद्यमियों को इन्क्यूबेशन हब सेवाएं भी प्रदान करेगा।

प्री फैब्रिकेटिड स्ट्रक्चर के साथ होगा भवन का निर्माण

जय राम ठाकुर ने कहा कि इस भवन का निर्माण पूर्व-निर्मित संरचना (प्री फैब्रिकेटिड स्ट्रक्चर) के साथ किया जाएगा, जिसे जून, 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा। वहीं, प्रदेश में बढ़ते कोरोना (Corona) मामलों पर जयराम ने कहा कि कोरोना महामारी के प्रसार को फैलने से रोकने के लिए प्रदेश सरकार (State Govt) को कुछ कठोर निर्णय लेने पड़े हैं। उन्होंने कहा कि इस कठिन समय में भी प्रदेश सरकार ने सुनिश्चित किया है कि विकास की गति निर्बाध रूप से चलती रहे। इसलिए परियोजनाओं की आधारशिला और लोकार्पण वर्चुअल माध्यम से किए गए है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अब निर्णय लिया है कि आयोजनों के दौरान 50 से अधिक लोगों को इक्कठा होने की अनुमति नहीं होगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है